Home /News /chhattisgarh /

महंगा मोबलाइल फोन फाइनेंस कराया, किश्त नहीं चुका पाने के कारण की एजेंट की हत्या

महंगा मोबलाइल फोन फाइनेंस कराया, किश्त नहीं चुका पाने के कारण की एजेंट की हत्या

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के गुंडरदेही थाना क्षेत्र से लगे गांव चिचलगोंदी के पास एक युवक की हत्या कर लाश को जलाकर फेंक देने वाले मामले में पुलिस ने खुलासा किया है.

    छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के गुंडरदेही थाना क्षेत्र से लगे गांव चिचलगोंदी के पास एक युवक की हत्या कर लाश को जलाकर फेंक देने वाले मामले में पुलिस ने खुलासा किया है. बालोद पुलिस ने घटना के महज 36 घंटों में ही सुलझा ली. मामले में आरोपियों ने मृतक धमतरी निवासी जैनेन्द्र कुमार श्रीराम फाइनेंस धमतरी को अपने मोबाइलफोन फाइनेंस के पैसे की रकम लौटने के नाम पर बुलाकर हत्या को अंजाम देने के बाद मृतक के पहचान छिपाने शव पर आग लगा दिए थे. इसके चलते पुलिस को मामले में मृतक की शिनाख्त करने में भी दिक्कतें आईं.

    पूरे मामले में पुलिस की मानें तो वेदप्रकाश सोनकर अपने शौक पूरे करने 85 हजार रुपये की कीमत का मोबाइलफोन श्रीराम फाइनेंस कम्पनी से फाइनेंस कराकर ख़रीदे, लेकिन मोबाइल खरीदने के बाद कम्पनी में कार्यरत रिकवरी एजेंट फाइनेंस की वसूली के लिए आरोपी वेदप्रकाश के पास पहुंचता था तो आरोपी द्वारा उसे बहाना बनाकर भेज दिया जाता था. जिसकी शिकायत मृतक ने अपने कम्पनी के उच्चाधिकारी को कर दी, जिसके बाद जब कंपनी द्वारा अपने रिकवरी एजेंट के माध्यम से आरोपी के ऊपर पैसे लौटने का दबाव बनया गया.

    पुलिस के मुताबिक आरोपी ने इसको लेकर अपने दो अन्य दोस्त प्रमोद और सागर कुमार साहू के माध्यम से एजेंट को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया और इस हत्या को अंजाम देने मुख्य आरोपी ने इसके लिए भी ऑनलाइन माध्यम से एक धारदार हथियार (चाकू) भी मंगवाया और रिकवरी एजेंट को पैसे लौटाने के नाम पर पहले दुकानपर बुलाया. जैसे ही एजेंट जैनेन्द्र आरोपी के दुकान के पास पहुंचा तो वहां पर दूसरा आरोपी सागर वहां पर मिला, जिसके बाद एजेंट को पैसे अन्य जगह पर देने के नाम पर गुमराह कर सागर व प्रमोद घटना स्थल पर ले गया.

    घटना स्थल पर पहुंचने के बाद आरोपियों व एजंट के बीच विवाद हुई और तीनो ने मिलकर एजेंट की हत्या कर दी और मामले में किसी को जानकारी न हो इसके लिए मृतक को चिचलगोंदी व् नवागांव के बीच एक नाले पर ले जाकर उसके शव में पेट्रोल व पैरा (धान के सूखे पेड़) डालकर आग लगा दी तथा मृतक के मोबाइल को तोड़कर फेंक दिया था.

    साथ ही आरोपियों ने मृतक के मोटर साइकिल को घटना स्थल से कुछ दुरी पर छोड़कर फरार हो गये थे. इस पूरे मामले में पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. बालोद के एडिशनल एसपी जेआर ठाकुर ने अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझा लिया गया है.

    ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़: सड़क हादसों में हर साल मरते हैं करीब 4,000 लोग, जानिए- क्या है वजह 
    ये भी पढ़ें- विधायक मोहन मरकाम ने सड़क दुर्घटना में घायल को अपने वाहन से भेजा अस्पताल
    यह भी जानें - ISRO Recruitment Alert 2018: वैज्ञानिक/इंजीनियर के इतने पदों पर निकली भर्ती, ऐसे करें आवेदन 

    Tags: Balod news, Chhattisgarh news, Murder

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर