• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • 'सपने में आत्मा सताती है दोस्त की, हां! मैंने कत्ल किया है' 17 साल बाद युवक का अजीबोगरीब कबूलनामा

'सपने में आत्मा सताती है दोस्त की, हां! मैंने कत्ल किया है' 17 साल बाद युवक का अजीबोगरीब कबूलनामा

बालोद के ग्राम करकभाट में रहने वाले टीकम कोलियार ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि उसने 17 पहले अपने दोस्त की हत्या की थी.

बालोद के ग्राम करकभाट में रहने वाले टीकम कोलियार ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि उसने 17 पहले अपने दोस्त की हत्या की थी.

Balod News: बालोद थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम करकभाट में रहने वाले टीकम कोलियार ने अचानक अपने परिवार और गांववालों को बताया कि 2003 में उसने गांव के युवक छवेश्वर गोयल की हत्या कर दी थी. हत्या करने के बाद में उसे गांव के पास की जंगल में दफना दिया था.

  • Share this:

बालोद. जिले के मर्डर मिस्ट्री का एक अनोखा मामला सामने आया है. अपने दोस्त को मौत के घाट उतार कर उसे जंगल में दफनाने की घटना का खुलासा 17 साल बाद स्वयं आरोपी ने किया है. आरोपी के खुलासे के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया. घटना करकभाट गांव की है. आरोपी की निशानदेही पर दो दिन तक स्थानीय प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने खुदाई करवाई लेकिन मृतक का शव या अवशेष नहीं मिल पाया. वहीं आरोपी की मानसिक हालत खराब होने की वजह से उसे परिजनों को सौंप दिया गया, जहां पुलिस अब कुछ दिन बाद फिर से पूरे मामले की जांच करेगी.

पूरी घटना में आपको बता दें कि बालोद थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम करकभाट में रहने वाले टीकम कोलियार ने अचानक अपने परिवार और गांववालों को बताया कि 2003 में उसने गांव के युवक छवेश्वर गोयल की हत्या कर दी थी. हत्या करने के बाद में उसे गांव के पास की जंगल में दफना दिया था. इस मामले की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी. पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर दो दिन तक खुदाई जरूर की लेकिन हाथ कुछ नहीं लगा..

पुलिस ने बताया कि आरोपी द्वारा यह कहा गया कि मृतक उसे सपने में आकर सताने लगा था, इस वजह से उसने इस पूरे मामले को बताया. वहीं इस घटना का कारण उसने बताया कि उसकी जो प्रेमिका थी जो वर्तमान में उसकी जो पत्नी है. उसका दोस्त उसे लगातार प्रताड़ित करता था तथा उसे शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश भी की थी. इस वजह से उसने गुस्से में आकर दोस्त छवेश्वर की हत्या कर दी थी.

मामले में पुलिस द्वारा कोई सुराग नहीं मिलने तथा आरोपी का मानसिक स्थिति खराब होने के चलते खुदाई बंद कर आरोपी को परिजनों को सौंपकर उपचार कराया जा रहा है. अब पूरा मामला आरोपी के ठीक होने के बाद ही खुलासा होगा कि वास्तविकता घटना में क्या हुआ था. बहरहाल आरोपी को परिजनों को सौंप दिया गया है. पुलिस अब आरोपी के ठीक होने का इंतजार कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज