• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • 'बकरा भात' के लिए चंदा नहीं दिया तो बाबू ने 8 माह तक लटकाया शिक्षिका का वेतन, सस्पेंड

'बकरा भात' के लिए चंदा नहीं दिया तो बाबू ने 8 माह तक लटकाया शिक्षिका का वेतन, सस्पेंड


शिक्षिका रीना ठाकुर का आठ माह तक वेतन रोकने वाला बाबू निलंबित,'बकरा भात' के लिए मांग रहा था चंदा

शिक्षिका रीना ठाकुर का आठ माह तक वेतन रोकने वाला बाबू निलंबित,'बकरा भात' के लिए मांग रहा था चंदा

बलौदाबाजार जिले में 'बकरा भात' के लिए चंदा नहीं देना एक महिला टीचर को भारी पड़ गया. महिला टीचर का वेतन 8 माह तक रोक लिया गया, जिससे महिला शिक्षक परेशान हो गई. चंदा न देने पर क्लर्क ने महिला शिक्षिका का वेतन रोक दिया.

  • Share this:
बलौदाबाजार. बलौदाबाजार (balodabazar) जिले में 'बकरा भात' के लिए चंदा नहीं देना एक महिला टीचर (female teacher) को भारी पड़ गया. महिला टीचर का वेतन 8 माह तक रोक लिया गया, जिससे महिला शिक्षक परेशान हो गई. चंदा न देने पर क्लर्क ने महिला शिक्षिका का वेतन रोक दिया. इस मामले के तूल पकड़ने के बाद कलेक्टर ने सख्ती दिखाई. मामले में बाबू को निलंबित कर दिया गया है.

मामला कसडोल विकासखंड के शासकीय उच्चतर माध्मिक शाला बया का है, जहां पीड़ित शिक्षिका रीना ठाकुर व्याख्याता के पद पर है. वह शिक्षक पंचायत से शिक्षा विभाग में संविलियन के बाद उसके सर्विस बुक में गलती बताकर बया में पदस्थ लिपिक हरिश पारेश्वर ने शिक्षिका का वेतन रोक दिया. वेतन निकालने की एवज में पैसों के मांग के साथ बकरा भात की पार्टी देने की मांग की गई. लिपिक के द्वारा शराब पीकर पीड़ित शिक्षिका से दुर्व्यवहार करने का भी आरोप है.

आठ माह तक शिक्षिका का वेतन नहीं निकलने से परेशान होकर शिक्षका रीना ठाकुर ने शिकायत कसड़ोल के विकासखंड शिक्षा अधिकारी से की. इसके बाद रायपुर शिक्षक संघ व संचनालय में भी शिकायत की. फिर भी शिक्षिका का वेतन नहीं निकला. बाबू लिपिक शिक्षिका को घुमाता रहा. पीड़ित शिक्षका ने मामले की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी सीएस ध्रुव व कलेक्टर सुनील जैन से की. तब मामले की गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर सुनील जैन ने जिला शिक्षा अधिकारी सीएस ध्रुव को सबंधित लिपिक हरिश पारेश्वर को निलंबित करने व शिक्षिका का वेतन निकालने आदेशित किया.

जिला शिक्षा अधिकारी सीएस ध्रुव ने 'बकरा भात' की पार्टी मांगने वाले तथा पैसों की मांग करने वाले लिपिक हरिश पारेश्वर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया. उच्चतर माध्यमिक शाला बया के वेतन आहरण अधिकारी एसएल पटेल को कारण बताओ नोटिस जारी कर पीड़ित शिक्षका का वेतन तत्काल तीन लाख बीस हजार रुपये जारी कर दिया गया. जिला शिक्षा अधिकारी की इस कार्रवाई से शिक्षा जगत में हड़कंप है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज