बलरामपुर के 15 मजदूर चेन्नई में बंधक, सोशल मीडिया के जरिए ऐसे लगाई मदद की गुहार

मामले की खोजबीन के पुलिस और महिला बाल विकास की टीम चेन्नई के लिए रवाना हो चुकी है.

Upesh sinha | News18 Chhattisgarh
Updated: July 17, 2019, 1:49 PM IST
बलरामपुर के 15 मजदूर चेन्नई में बंधक, सोशल मीडिया के जरिए ऐसे लगाई मदद की गुहार
मामले की जांच करने पुलिस की एक टीम चेन्नई रवाना कर दी गई है.
Upesh sinha | News18 Chhattisgarh
Updated: July 17, 2019, 1:49 PM IST
बलरामपुर जिले के बलंगी चौकी क्षेत्र से 15 मजदूरों को बंधक बनाने का एक मामला सामने आया है. चेन्नई की एक प्राइवेट कंपनी पर बंधक बनाने का आरोप लगा है. पूरा मामला सोशल मीडिया में शेयर किए गए एक वीडियो के जरिए सामने आया. वीडियो सामने आने के बाद मजदूरों के परिजनों ने युवकों को रिहा कराने के लिए प्रशासन से लगाई मदद की गुहार लगाई है. मिली जानकारी के मुताबिक बंधक बनाए गए युवकों में से एक ने ये वीडियो जारी किया था. मामले की खोजबीन के पुलिस और महिला बाल विकास की टीम चेन्नई के लिए रवाना हो चुकी है.

फोन आना हुआ बंद, तब हुआ था घरवालों को शक

दरअसल काम की तलाश में जिले के रघुनाथनगर थाना के बलंगी चौकी क्षेत्र के अलग-अलग तीन गांव से करीब 15 लड़के चेन्नई चले गए थे और किसी प्राइवेट कंपनी में काम कर रहे थे. लेकिन कुछ दिन घरवालों से बात करने के बाद युवकों का फोन आना बंद हो गया. फिर पता चला कि एक वीडियो के जरिए लड़कों को चेन्नई में एक कम्पनी नें बंधक बना कर रख लिया है. साथ ही मोबाइल और अधार कार्ड भी जब्त कर लिया है. परिजनों ने वीडियो के सामने आने के बाद अब पुलिस प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है.

Chhattisgarh news, balrampur news, labors of balrampur bonded in Chennai, bonded labors of balrampur, labors shared a video in facebook and asked help, help in facebook, छत्तीसगढ़ न्यूज, बलरामपुर न्यजू, बंधक मजदूर, बलरामपुर के बंधक मजदूर, सोशल मीडिया में मदद का वीडियो, फेसबुक के जरिए मांगी मदद
वीडियो सामने आने के बाद परिजनों ने पुलिस से मदद की गुहार लगाई है.


पुलिस ने कही ये बात

वीडियो सामने आने के बाद पीड़ित युवक के परिजनों ने पुलिस को इस पूरे मामले की जानकारी दी. साथ ही परिजनों को रिहा करने मदद की गुहार भी लगाई. इस पूरे मामले में एसडीओपी धुवेश कुमार जायसवाल का कहना है कि पुलिस और प्रशासन की एक टीम बनाई गई है. मामले की सच्चाई जानने के लिए टीम को चेन्नई रवाना कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

गिरफ्तारी से बचने निलंबित डीजी मुकेश गुप्ता का नया पैतरा, लेटर में EOW को लिखी ये बात 

आधी रात ऐसा क्या हुआ जिससे खत्म हो गया एक सिपाही का पूरा परिवार

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बलरामपुर-रामानुजगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 17, 2019, 1:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...