Chhattisgarh: प्रीती साय ने बलरामपुर के कुसमी शहर से बॉलीवुड का ऐसे तय किया सफर

बॉलीवुड पहुंची बलरामपुर की प्रीती साय.

बॉलीवुड पहुंची बलरामपुर की प्रीती साय.

Balrampur News: छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले की रहने वाली प्रीती साय (Preeti Sai) विद्या बालन (Vidya Balan) के साथ एक मूवी में नजर आने वाली हैं. प्रीती ने बताया कि बचपन में दुर्गा पूजा के दौरान बच्चों के लिए आयोजित की जा रही डांस प्रतियोगिता में उन्होंने भाग लिया और इसी मंच से उन्होंने बॉलीवुड जाने का फैसला किया.

  • Share this:

बलरामपुर. छत्तीसगढ़ के बलरामपुर (Balrampur) जिले के छोटी से शहर कुसमी से विद्या बालन (Vidya Balan) जैसी बड़ी अभिनेत्री के साथ शेरनी फिल्म (Movie Sherni) में दिखने वाली प्रीती साय (Preeti Sai) नें बॉलीवुड का सफर बहुत मेहनत से तय किया है. कुसमी की बेटी की सफलता को देखकर स्थानीय लोग खुश हैं. शेरनी फिल्म में देश की मशहूर अभिनेत्री विद्या बालन के साथ 18 जून को प्रीती साय दिखने वाली हैं. प्रीती ने बताया कि बचपन में दुर्गा पूजा के दौरान बच्चों के लिए आयोजित की जा रही डांस प्रतियोगिता में उन्होंने भाग लिया और इसी मंच से उन्होंने बॉलीवुड जाने का फैसला किया.

प्रीती ने बताया कि एयर होस्टेस की पढ़ाई करने के लिए रायपुर गईं. वहां पर उन्होंने छत्तीसगढ़ी फिल्म में काम किया और फिर मुंबई चली गईं. काफी मेहनत करने के बाद सीरीयल में काम किया और फिर वापस आ गईं. फिर से उन्होंने मन बनाया और वापस गईं. अपने दोस्तों के साथ फिल्म में काम किया. झारखंड फिल्म फेस्टिवल में उन्हें अवॉर्ड मिला तो मन में खुशी मिली और काम करने का हौसला बढ़ा. अब वे शेरनी फिल्म में फॉरेस्ट ऑफिसर के रोल में विद्या बालन सहित कई बड़े एक्टर के साथ 18 जून को दिखेगी क्यूंकि इस दिन यह फिल्म अमेजन प्राइम पर रिलीज हो रही है.

chhattisgarh news, balrampur news, movie sherni 2021. preeti sai in movie sherni, balrampur preeti sai, प्रीती साय फिल्म शेरनी, amazon prime, 2021 movies
प्रीती साय ने सीरीयल में भी काम किया है.

कुसमी से बॉलीवुड तक का सफर
कुसमी में रहने वाले स्थानीय लोग दुर्गा पूजा यानि शरद नवरात्र में समय के हिसाब से कुछ न कुछ कार्यक्रम का मंचन करते थे. कभी रामलीला तो कभी ऑर्केस्टा और डांस प्रतियोगिता और अब कोविड से पहले तक इस मंच में डांस कुसमी डांस साटकट में डीकेडी बच्चों के डांस प्रतियोगिता का आयोजन होता आ रहा था. स्थानीय लोगों को इस बात से खुशी है कि उनके इस मंच से आज किसी को बॉलीवुड तक का रास्ता दिखा दिया.

कालाकार को अपनी मंजिल पाने के लिए एक मंच की आवश्यकता तो होती है जो कि मां दुर्गा के मंच में नवरात्र में आयोजीत डांस प्रतियोगिता के जरिये बच्चों को मिलता है. बहरहाल कुसमी शहरवासियों ने कभी सोचे नहीं था कि इस मंच से कोई फिल्मी जगत तक कदम रख सकता है, लेकिन प्रीती साय के शेरनी फिल्म में कदम रखने से लोग काफी खुश हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज