अपना शहर चुनें

States

बाइक की सीट के नीचे बैठा था सांप, लोगों ने देखा और फिर..

बलरामपुर के चांदो गांव में बीते 7 अगस्त को एक सांप पैशन बाइक की सीट के नीचे बैठा दिखा.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में फिर एक सांप लोगों के लिये आकर्षण का केन्द्र बना. दरअसल जिले के चांदो गांव में करीब तीन घंटे तक एक सांप का खेल देखने को मिला. सांप बाइक की सीट के नीचे बैठा देखा गया. फिर वही सांप ट्रैक्टर पर चढ़ गया. उसे देखने लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई. करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद सांप को वहां से हटाया जा सका.

मिली जानकारी के मुताबिक बलरामपुर के चांदो गांव में बीते 7 अगस्त को एक सांप पैशन बाइक की सीट के नीचे बैठा दिखा. ऐसा देख बाइक मालिक हैरान रह गया. फिर बाइक को साइड में खड़ा किया गया. बाइक की सीट से निकलकर सांप ट्रैक्टर पर चढ़ गया. काफी मशक्कत के बाद सांप वहां से निकलकर जंगल की ओर गया. इसका एक वीडियो भी वायरल हो रहा है. बारिश में जंगली जीव जंतुओं से बचने के लिए प्रशासन द्वारा अलर्ट भी जारी किया गया है.

बाइक की सीट के नीचे बैठा सांप.




जशपुर को कहते हैं नागलोक
बता दें कि प्रदेश में जशपुर व बलरामपुर जिले में सांपों की कई प्रजातियां पाई जाती हैं. सांपों के मामले में जानकारी कैसर हुसैन कहते हैं कि जशपुर में कुल 26 प्रकार के सांपों की प्रजाति पाई जाती है. इनमें से सिर्फ छह प्रजाति ही जहरीली है बाकी 20 प्रकार की सांपों की प्रजातियों में जहर नहीं होता. जिले में बारिश और गर्मी के मौसम में सांपों का खासा असर होता है. इस मौसम में सांप बिलों से बाहर आ जाते हैं. जिले में सांपों की अधिकता होने की वजह से सर्पदंश से मौत के मामले भी ज्यादा हैं. जशपुर को छत्तीसगढ़ का नागलोक भी कहा जाता है.

योजना अधर में
सर्पदंश से सबसे ज्यादा मौतें जमीन पर सोने और खुले में सोने की वजह से होती है. सर्पदंश से मौत के आंकड़े कम करने के लिए प्रशासन और एनजीओ मिलकर प्रयास कर रहे हैं. इसके लिए गांव गांव में जाकर जमीन पर ना सोने और मच्छरदानी लगाकर सोने की अपील की जाती है. प्रदेश में जशपुर समेत अन्य जिलों में पिछले कई सालों से तपकरा में स्नैक पार्क बनाने की मांग लंबित है, लेकिन आज तक ये योजना अधर में है. स्नैक पार्क बनने के बाद एंटी स्नैक वेनम बनाने और लोगों को सर्पदंश से मौत के मामलों में जनजागरुकता अभियान चलाने में मदद मिलेगी.

ये भी पढ़ें: भूपेश सरकार ने खत्म की वैट की रियायत, इतने रुपये मंहगा हो गया पेट्रोल-डीजल 

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के मैनपाट इसी साल से शुरू होगी चाय की खेती, सरकार ने की ये तैयारी  
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज