छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंक के मैनेजर और कैशियर पर धोखाधड़ी का आरोप

ग्रामीणों ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर शनिवार को दोषी बैक मैनेजर और कैशियर के खिलाफ कोडेनार थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है.

Vinod Kushwaha | News18 Chhattisgarh
Updated: August 11, 2018, 6:53 PM IST
छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंक के मैनेजर और कैशियर पर धोखाधड़ी का आरोप
प्रतीकात्मक
Vinod Kushwaha | News18 Chhattisgarh
Updated: August 11, 2018, 6:53 PM IST
छत्तीसगढ़ के जगदलपुर जिले के कोडेनार में छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंक के मैनेजर और कैशियर पर स्थानीय ग्रामीणों ने धोखाधडी किए जाने का आरोप लगाया है. फर्जी तरीके से ग्रमीणों के एकांउट से बड़े ही फर्जी तरीके से रकम निकाले जाने के इस मामले से इलाके के ग्रामीण काफी ज्यादा आक्रोशित है. ग्रामीणों ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर शनिवार को दोषी बैक मैनेजर और कैशियर के खिलाफ कोडेनार थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है. इसके आलवा कार्रवाई करने के लिए बास्तानार के तहसीलदार को एक पत्र भी ग्रामीणों ने सौंपा है. सोमवार को ग्रामीण आदिवासी थाने में भी एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर रहे है.

बताया जा रहा है कि जगदलपुर से करीब 50 किमी दूर कोडेनार इलाके के करीब 500 ग्रामीण जिनमे महिला और पुरूष शामिल थे. इन सभी ने मिलकर शनिवार को कोडेनार से बास्तानार तक एक रैली निकाली. इस रैली का मकसद इलाके के लोगों को जागरूक करना था. ग्रामीणों ने छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैक प्रबंधक के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सड़क पर प्रदर्शन किया. बाद में कोडेनार थाने पहुंचे ग्रामीणों ने एक छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैक के शाखा मैनेजर और कैशियर के खिलाफ लिखित शिकायत की. शिकायत में लिखा गया है कि बैक मैनेजर और कैशियर द्वारा ग्रामीणों के व्यक्तिगत खाते से हजारों रूपए आहरित कर लिया गया है.

इस बात का पता ग्रामीणों को उस वक्त चला जब ग्रामीणों ने पास बुक में एंट्री करवाई. उस दौरान सभी के खाते में जीरों बैलेन्स दिखाया गया. ठगी का शिकार हुए ग्रामीणों के मुताबिक किसी के खाते से 15 हजार तो किसी के खाते से 20 हजार रूपए निकाल लिए गए है. लाखों की ठगी का शिकार हुए ग्रामीण आज जनपद अध्यक्ष रूक्मणी कर्मा के साथ कोडेनार थाने पहुंचे और बैक मैनेजर सहित कैशियर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई. इसके बाद बास्तानार तहसीलदार को भी एक पत्र ग्रामीणों ने सौंपा और दोनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. इसके अलावा सोमवार को ग्रामीण जगदलपुर पहुंचकर आदिवासी थाने में भी मामला दर्ज करवाएंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर