News 18 की खबर का असर: कर्ज न चुकाने के कारण जेल गए दो किसान रिहा

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में कर्ज नहीं चुकाने के कारण जेल गए दो किसानों तुलाराम मौर्य और सुखराम को गुरुवार को रिहा कर दिया गया है.

Vinod Kushwaha | News18 Chhattisgarh
Updated: May 16, 2019, 8:28 PM IST
News 18 की खबर का असर: कर्ज न चुकाने के कारण जेल गए दो किसान रिहा
जेल से रिहा किसान.
Vinod Kushwaha | News18 Chhattisgarh
Updated: May 16, 2019, 8:28 PM IST
छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में कर्ज नहीं चुकाने के कारण जेल गए दो किसानों तुलाराम मौर्य और सुखराम को गुरुवार को रिहा कर दिया गया है. न्यूज 18 ने किसानों की गिरफ्तार की खबर को प्रमुखता से दिखाया था. साथ ही किसान हितैषी किसान सरकार होने का दावा करने वाले जिम्मेदारों के संज्ञान में भी मामला लाया था. इसके बाद प्रशासन ने मामले में किसानों की रिहाई का निर्णय लिया था. इसके बाद आज देर शाम किसानों को जगदलपुर सेंट्रल जेल से रिहा कर दिया गया है.

बस्तर ब्लॉक के दो किसानों के परिवार ने जगदलपुर कलेक्ट्रेट पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई. बताया गया कि पीड़ित किसानों को एजेंटों द्वारा खेत में ड्रिप कराने के नाम से बैंक से लोन दिलवा दिया गया, पर अशिक्षित किसानों को यह नहीं मालूम कि उन्हें फंसाया जा रहा है. 40 हजार हाथ में देकर उन्हें 4 लाख रुपये का कर्जदार बनाया जा रहा है. वहीं एक किसान को तो मात्र 60 हजार देकर 10 लाख रुपये का कर्जदार बना दिया. लोन जमा नहीं होने के कारण किसानों को गिरफ्तार कर बीते 13 मई को जेल भेज दिया गया था.



इसके खिलाफ किसान संगठन भी एकजुट हो गए थे. मामले में रिहाई की मांग लगातार की जा रही थी. रिहाई नहीं करने पर किसानों ने आंदोलन की चेतावनी भी दी थी. इसके खिलाफ बीते बुधवार को जगदलपुर में किसानों के एक संगठन में पैदल मार्च भी किया था. इसके बाद आज गिरफ्तार किसानों की रिहाई कर दी गई है.
ये भी पढ़ें: किसानों की रिहाई नहीं हुई तो जगदलपुर में भूख हड़ताल करेंगे ग्रामीण

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के इन आदिवासियों से 'न्याय' करना भूल गई सरकार? 
ये भी पढ़ें: आदिवासियों पर दर्ज प्रकरणों पर समीक्षा समिति की बैठक, अधिकारियों को मिली जिम्मेदारी 
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार