Assembly Banner 2021

कोरोना संक्रमण की दहशत: जगदलपुर में नदी में फेंकी गईं दर्जनों मुर्गियां, जांच में जुटी पुलिस

नदी से मुर्गियां निकालता निगम अमला.

नदी से मुर्गियां निकालता निगम अमला.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की दहशत के कारण बस्‍तर से गुजरने वाली इंद्रावती नदी में बड़ी तादाद में मुर्गियां फेंकी गई.

  • Share this:
बस्तर. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की दहशत छत्तीसगढ़ के नक्‍सल प्रभावित बस्तर (Bastar) जिले में भी देखने को मिल रही है. ताजा मामला जगदलपुर की लाइफ लाइन कही जाने वाली इंद्रावती नदी में मरी मुर्गियां फेंकने का है. अज्ञात लोगों ने नदी में मुर्गियां फेंक दी, जिसके बाद नगर निगम प्रशासन में हड़कंप मच गया. इसके बाद नगर निगम की टीम द्वारा मरी मुर्गियों को नदी से निकालने की कवायद की. नदी में बड़ी संख्या में मरी मुर्गियां फेंकी गई थीं.

नदी में मुर्गियां फेंकने की जानकारी मिलने के बाद जगदलपुर निगम महापौर और सभापति ने मौके पर पहुंचकर वहां से मुर्गियों को निकलवाया और फिर एक गड्ढा खोदवाया. गड्ढे में मुर्गियों को दफनाया गया. इतना ही नहीं नगर निगम प्रशासन ने जगदलपुर कोतवाली पुलिस से मामले की शिकायत भी की. इसके बाद पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण की दहशत की वजह से ही मुर्गियों को नदी में फेंका गया था.

अज्ञात व्यक्ति की तलाश जारी
बताया जा रहा है कि बीते शनिवार की सुबह नदी किनारे घाट में नहा रहे कुछ लोगों को बड़ी संख्या में मृत मुर्गियों को तैरते हुए देखा, जिसके बाद नगर निगम महापौर को इसकी सूचना दी गयी. जानकारी मिलने के बाद मौके पर निगम महापौर सफीरा साहू, सभापति कविता साहू, पीडब्ल्यूडी सभापति यशर्वधन राव मौके पर निगम अमले को लेकर पहुंचे और नदी से कुछ दूरी पर एक बडा गड्ढा करके मुर्गियों को दफनाया गया. पुलिस अज्ञात व्यक्ति की तलाश कर रही है.​



ये भी पढ़ें:
सुकमा नक्सली मुठभेड़: लापता 17 जवान शहीद, घायलों से मिलने अस्पताल पहुंचे CM भूपेश बघेल 

सुकमा नक्‍सली मुठभेड़: घने जंगलों में 17 जवान लापता, बुलेटप्रूफ जैकेट पहनकर आए थे माओवादी! 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज