Assembly Banner 2021

नारायणपुर कैंप में CAF जवान ने साथियों पर की ताबड़तोड़ फायरिंग, 2 की मौत

आरोपी जवान से पूछताछ की जा रही है.. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आरोपी जवान से पूछताछ की जा रही है.. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Firing In CAF Camp: बस्तर आईजी पी सुंदरराज ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि आरोपी जवान को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

  • Share this:
नारायणपुर. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर (Narayanpur) जिले में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (CAF) के एक जवान ने अपने ही साथियों पर गोली चला दी. फायरिंग में दो जवानों की मौत हो गई है, वहीं एक गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. घायल जवान को इलाज के लिए रायपुर रेफर कर दिया गया है. सभी जवान सीएएफ 9वीं बटालियन के बताए जा रहे हैं. आरोपी जवान का नाम घनश्याम कुमेटी बताया जा रहा है. वहीं] गोली लगने से रामेश्वर साहू और बिन्तेश्वर साहनी की मौत हो गई है. बस्तर आईजीपी सुंदर पी ने की घटना की पुष्टि की है.

बताया जा रहा है कि नारायणपुर जिले के अमदई घाटी कैंप में जवानों के बीच किसी बात को लेकर झड़प हो गई. इसके बाद जवान ने साथियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग की. गोली लगने से जवान लछु राम बुरी तरह घायल हो गए हैं. इन्हें इलाज के लिए रायपुर रेफर कर दिया गया है.

आपसी विवाद
बस्तर रेंज के आईजी पी सुंदरराज के मुताबिक मामला सीएएफ की 9वीं बटालियन का है. बताया जा रहा है कि शुक्रवार रात किसी बात को लेकर कैम्प के अंदर ही जवानों में आपसी विवाद हुआ. मामला इतना ज्यादा बढ़ गया कि आरोपी जवान असिटेंड कमांडेट घनश्याम कुमेटी ने अपने साथियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी. आरोपी जवान राजनांदगांव के अम्बागढ़ चौकी का रहने वाला बताया जा रहा है.
जानकारी के मुताबिक, आरोपी जवान ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से अपने साथी जवानों पर फायरिंग की जिसमें 2 जवानों की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई. बस्तर आईजी ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि आरोपी जवान को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है कि आखिर क्या वजह रही जिसके चलते जवान ने इस तरह का कदम उठाया. वैसे सुरक्षा कैम्पों में इस तरह की ये पहली घटना नहीं है. इससे पहले भी सुरक्ष कैम्प में इस तरह की घटना होती रही है, जिसमें तनाव में रहते हुए जवानों द्वारा इस तरह की घटना को अंजाम देने की बात कही जा रही थी. फिलहाल आरोपी जवान से पूछताछ जारी है.



ये भी पढ़ें: 

COVID-19 Update: सिर्फ 14 दिन में मरीजों का आंकड़ा हुआ 415, एक्टिव केस 300 के पार 



आंखें नम कर गए अजीत जोगी, पूरे राजकीय सम्मान के साथ आज होगी अंतिम विदाई 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज