अपना शहर चुनें

States

जब्त धान और वाहनों को वापस नहीं करेगा प्रशासन, किसान और व्यापारी परेशान

धान खरीदी को लेकर किसानों और सरकार में घमासान मचा है.  (File Photo)
धान खरीदी को लेकर किसानों और सरकार में घमासान मचा है. (File Photo)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बेमेतरा (Bemetara) जिले में जब्त धान (Paddy) और वाहनों को लेकर प्रशासन सख्ती के मूड में है.

  • Share this:
बेमेतरा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बेमेतरा (Bemetara) जिले में जब्त धान (Paddy) और वाहनों को लेकर प्रशासन सख्ती के मूड में है. अवैध धान परिवहन करने के आरोप मे जब्त वाहन और धान को जिला प्रशासन वापस नहीं करेगा. धान व वाहनों को वापस करने से प्रशासन ने साफ मना कर दिया है, जिससे किसान और व्यापारी परेशान हैं. प्रशासन पर कई निर्दोष किसान व व्यापारियों पर भी कार्रवाई के आरोप लगे हैं. ऐसे लोगों के धान व जब्त वाहन वापस करने की मांग की जा रही है.

दरअसल शासन के निर्देश के बाद बेमेतरा (Bemetara) जिला प्रशासन द्वारा अवैध धान परविहन करने वालों पर कार्रवाई की गई. इस दौरान कई किसानों का भी धान साथ में कागजात न रखने के नाम पर जब्त किया गया था. किसान सतपाल सिंह का कहना है कि अवैध धान परिवहन पर वाहन को जब्त करने का कोई प्रावधान नहीं है और धान पर भी 5 गुना जुर्माना लगाकर छोड़ने का ही नियम है, पर अधिकारी अपनी वाहवाही बंटोरने के लिए न वाहन को छोड़ रहे है न ही धान.

कलेक्टर का इनकार
किसान और व्यापारियों का एक समूह ने धान और जब्त वाहन को छोड़ने की मांग को लेकर कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी से मांग की. इसपर कलेक्टर तिवारी ने साफ मना कर हाई कोर्ट से वाहन छुड़ाने की बात कही है. इसके बाद अब व्यापारी परेशान हो रहे हैं तो कई वाहन मालिक जो किसानों पर वाहन छुड़वाने का दबाव बना रहे हैं. उनका कहना है कि किसानों के क​हने पर ही उन्होंने धान का परिवहन किया.
ये भी पढ़ें:


दंतेवाड़ा के दिव्यांग बच्चे की क्रिकेट के कायल हुए सचिन तेंडुलकर, लिखा- '2020 की शुरुआत इस प्रेरणादायक Video से कीजिए' 

पत्नी की टीवी खरीदने की जिद पर पति ने कर दी हत्या, आरोपी फरार 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज