बेटियों ने निभाई जिम्मेदारी: मुखाग्नि देकर पूरी की अपने पिता की अंतिम इच्छा

बेटी को मुखाग्नि देता देख मुक्तिधाम में उपस्थित सभी लोगों की आंख नम हो गई. बेटियां दाह संस्कार होने तक मुक्तिधाम में रही और अपना कर्तव्य पूरा किया.

Komal Singh Rajput | News18 Chhattisgarh
Updated: July 25, 2019, 11:35 AM IST
बेटियों ने निभाई जिम्मेदारी: मुखाग्नि देकर पूरी की अपने पिता की अंतिम इच्छा
बेटी को मुखाग्नि देता देख मुक्तिधाम में उपस्थित सभी लोगों की आंख नम हो गई.
Komal Singh Rajput
Komal Singh Rajput | News18 Chhattisgarh
Updated: July 25, 2019, 11:35 AM IST
छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में बेटियों ने एक मिसाल पेश की है. समाज के रीति रिवाजों को तोड़ते हुए लड़कियों ने अपने पिता की अंतिम इच्छा पूरी की. पिता की इच्छा की इन्हे मुखाग्नि बेटी ही दे. पिता की ये इच्छा पूरी करते हुए बेटी ने परंपराओं को तोड़ते हुए अपने दिवंगत पिता की अर्थी को कंधा ही नही दिया
बल्कि मुखाग्नि भी दिया. बेटी को मुखाग्नि देता देख मुक्तिधाम में उपस्थित सभी लोगों की आंख नम हो
गई. बेटियां दाह संस्कार होने तक मुक्तिधाम में रही और अपना कर्तव्य पूरा किया.

बेटियों ने निभाई जिम्मेदारी

मिली जानकारी के मुताबित बेमेतरा के पुरोहित मोहल्ले में रहने वाले शिक्षक मधुसुदन दास वैष्णव का मंगलवार को चंदूलाल चंद्राकर मेमोरिलय हास्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गई . उनका अंतिम संस्कार पिकरी बांधा तालाब के पास स्थित मुक्तिधाम में किया गया. शिक्षक की बेटी निलिमा वैष्णव ने अपने पिता को मुखाग्नि दी.

बेटी को मुखाग्नि देता देख मुक्तिधाम में उपस्थित सभी लोगों की आंख नम हो
गई.

Loading...

बता दें कि दिवंगत शिक्षक मधुसुदन दास वैष्णव कि छह बेटियां है.  तीन बेटियां पिंकी वैष्णव, भारती वैष्णव और राजेवरी वैष्णव की शादी हो चुकी है तो वहीं तीन बेटियां पूनम, नेहा और निलिमा वैष्णव अभी पढ़ाई कर रही है. भाई नहीं होने पर परिवार की जवाबदेही बेटियों के कंधों पर आ गई है. पिता की इच्छा के मुताबिक बेटी निलिमा वैष्णव ने अपने पिता को मुखाग्नि दी. तो वहीं चार बेटियों ने पिता को कांधा दिया.

ये भी पढ़ें:

छत्तीसगढ़: बारिश के लिए करना होगा अभी और इंतजार, मौसम विभाग ने जताई ये आशंका 

फोर्स को चकमा देने नक्सलियों का नया पैंतरा, अब पुतले के नीचे लगा रहे IED
First published: July 25, 2019, 11:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...