बेमेतरा: डायरिया की चपेट में आने से एक की मौत, दर्जनों चपेट में

बेमेतरा जिले में डायरिया की चपेट में आने से एक वृद्ध महिला की मौत भी हो गई है. महिला की मौत के बाद से स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में कैंप लगाकर लोगों का इलाज करना शुरू कर दिया है.

Komal Singh Rajput
Updated: June 14, 2018, 2:06 PM IST
बेमेतरा: डायरिया की चपेट में आने से एक की मौत, दर्जनों चपेट में
डायरिया की चपेट में आने से एक की मौत, दर्जनों चपेट में
Komal Singh Rajput
Updated: June 14, 2018, 2:06 PM IST
छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में एक बार फिर डायरिया का प्रकोप देखने को मिला है. गांव के दर्जनभर से ज्यादा लोग इस बीमार की चपेट में हैं. इतना ही नहीं डायरिया की चपेट में आने से एक वृद्ध महिला की मौत भी हो गई है. महिला की मौत के बाद से स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में कैंप लगाकर लोगों का इलाज करना शुरू कर दिया है. मामला जिले के नवागढ़ विकासखंड अंतर्गत ग्राम मोहतरा का है.

इधर, बेमेतरा कलेक्टर महादेव कावरे ने गांव का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया है. नवागढ़ विकासखंड अंतर्गत ग्राम मोहतरा में डायरिया के चलते एक वृद्ध महिला देवकुवर बाई की मौत हो गई है, जिसके बाद से ही पूरे गांव में डायरिया का खतरा मंडरा रहा है. वहीं ग्राम के दो दर्जनभर से भी ज्यादा लोग उल्टी और दस्त से परेशान हैं.

वहीं गांव में डायरिया से पीड़ित कुछ लोगों को मुंगेली रेफर किया गया है. वहीं कुछ का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नवागढ़ में जारी है. इसके अलावा गंभीर स्थिति में 3 मासूम बच्चों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है. मिली जानकारी के मुताबिक गांव में डायरिया फैलने का मुख्य कारण वहां के तालाब का गंदा पानी है. इस पानी को गांव के लोग खाना बनाने के लिए उपयोग में लाते थे. गांव में डायरिया फैलने
के बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा गांव में मुनादी कर लोगों को गंदा पानी पीने के लिए मना किया गया है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर