होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /

3 सालों से सूखे की मार झेल रहे किसानों को नहीं मिला रहा मुआवजा

3 सालों से सूखे की मार झेल रहे किसानों को नहीं मिला रहा मुआवजा

फोटो: किसान

फोटो: किसान

कभी फसल बीमा, कभी मनरेगा राशि तो कभी शासन की योजनाओं की राशि के लिए किसान भटकने को मजबूर हैं. अब वे अपने ही जमीन के मुआवजे की राशि के लिए भटक रहे है.

    छत्तीसगढ़ का बेमेतरा जिला 3 सालों से सूखे की मार झेल रहा है. यहां के किसानों की मुसीबत भी कम नहीं होने का नाम नहीं ले रही है. कभी फसल बीमा, कभी मनरेगा राशि तो कभी शासन की योजनाओं की राशि के लिए किसान भटकने को मजबूर हैं. अब वे अपने ही जमीन के मुआवजे की राशि के लिए भटक रहे है.

    मामला बेमेतरा के ग्राम लालपुर का है. इस गांव में साल भर पहले नाबार्ड योजना के तहत रोड बनाने के लिए 50 से ज्यादा किसानों की भूमि को अधिग्रहित किया था. लेकिन साल भर बीतने के बाद भी किसानों को उनके जमीन के मुआवजे की रिकवरी तक नहीं मिली है.

    अधिकारियों के लगातार चक्कर काटने के बाद थक-हार कर किसानों ने कलेक्टर से मदद की गुहार लगाई. मामले में कलेक्टर महादेव कावरे ने कहा कि किसानों की शिकायत की जांच की जाएगी. किसानों को उनके हक का मुआवजा मिलेगा.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर