अपना शहर चुनें

States

खबर का असर: रिश्वत मामले में कलेक्टर ने आबकारी निरीक्षक को किया सस्पेंड

बेमेतरा कलेक्टर कार्तिकेया गोयल
बेमेतरा कलेक्टर कार्तिकेया गोयल

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में अधिकारियों द्वारा रिश्वत लेने के वीडियो को लोगों द्वारा वायरल करने की खबर दिखाए जाने के बाद कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने पटवारी और आबकारी निरीक्षक से जवाब मांगा है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में एक बार फिर ईटीवी की खबर का असर हुआ है. दरअसल, जिले में अधिकारियों द्वारा रिश्वत लेने के वीडियो को लोगों द्वारा वायरल करने की खबर दिखाए जाने के बाद कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने पटवारी और आबकारी निरीक्षक से जवाब मांगा था.

कलेक्टर ने संबंधित मामले को गंभीरता से लेते हुए दोषी पटवारी और आबकारी निरीक्षक को नोटिस भेजकर उनसे जवाब तलब किया था. इस पर पटवारी को साजा एसडीएम ने तत्काल निलंबित कर दिया था. वहीं कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने संतोषजनक जवाब न मिलने पर आबकारी निरीक्षक को भी अब निलंबित कर दिया है.

मामले में बेमेतरा कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने कहा कि आबकारी निरीक्षक से नोटिस के माध्यम से जवाब मांगा गया, लेकिन उनका जवाब संतोषजनक नहीं था. इसलिए उन्हें सस्पेंड कर आगे की विधिवत कार्रवाई की जा रही है.



गौरतलब है कि बेमेतरा में बीते दिनों रिश्वतखोर अधिकारियों से परेशान होकर ग्रामीणों ने वीडियो बनाकर वायरल किया था. आपको बता दें कि ग्राम जिया के ग्रामीण गौकरण वर्मा, हेमसिंह और कमलेश देसी शराब दुकान से दो-दो पौवा शराब की बोतल लेकर जा रहे थे. तभी आबकारी आरक्षक कल्याण प्रसाद ने तीनों को रोकते हुए अवैध शराब परिवहन करने का मामला दर्ज करने की धमकी दी थी. साथ ही तीनों ग्रामीणों से 6 पौवा शराब को जब्त करते हुए 5 हजार रुपए लेकर अॅाफिस आने को कहा था.
इतना ही नहीं ऑफिस नहीं आने पर उन्हें जेल भेजने की घमकी दी थी. इससे घबराए 2 ग्रामीण गौकरण और हेंमसिंह पैसे लेकर आबकारी कार्यालय पहुंचे और आरक्षक को नाम काटने का अनुरोध करते हुए 4 हजार रुपए रिश्वत दिया. इस दौरान रिश्वत देने और लेने का ग्रामीणों ने मोबाइल पर वीडियो बना लिया.

ग्रामीणों द्वारा वीडियो बनाने की बात पता चलते ही आरक्षक गांव पहुंचकर ग्रामीणों से कोरे कागज में हस्ताक्षर कराने लगा, जिसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए. इस पर आरक्षक ने संबंधित अधिकरियों पर सारा दोष मढ़ते हुए रिश्वत लेने की बात कही थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज