Assembly Banner 2021

जेल में फांसी पर लटकी मिली बंदी की लाश

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

बेमेतरा में उपजेल के एक बंदी का शव जेल परिसर में ही फांसी पर लटकी मिली. गुरुवार रात की इस घटना के बाद जेल में बंद अन्य बंदी भी सकते में है.

  • Share this:
बेमेतरा में उपजेल के एक बंदी का शव जेल परिसर में ही फांसी पर लटकी मिली. गुरुवार रात की इस घटना के बाद जेल में बंद अन्य बंदी भी सकते में है. बंदी की फांसी की सूचना से जिला एवं जेल प्रशासन में हडकंप की स्थिति है.

बंदी के फांसी लगाने की घटना के बाद जेल प्रशासन ने जेल प्रहरी को तत्काल निलंबित कर दिया. इधर प्रशासन ने मामले की जांच शुरू कर दी है. बंदी ने फांसी लगाई है या किसी ने हत्या कर फांसी पर लटका दिया होगा यह रहस्य बरकरार है. फिलहाल मामले की जांच के बाद कारणों का खुलासा होगा.

बता दें कि जेल के बैरक नंबर तीन में लुंगी का फंदा बनाकर फांसी लगाने वाला लोकेश सतनामी 19 वर्ष ग्राम बोड़ साजा तहसील का निवासी था. उसे नाबालिग से अनाचार के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. आरोपी पर धारा 376, 366, 363 पाक्सो एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया. उसे न्यायालय के आदेश पर 14 दिसंबर के उपजेल लाया गया था. बंदी को फांसी पर लटके देख अन्य बंदियों ने इसकी सूचना दुर्ग केंद्रीय जेल अधीक्षक को दी.



घटना की जानकारी मिलते ही जेल अधीक्षक दुर्गेश क्षत्री और डॉ. एसके शर्मा ने जेल पहुंच कर मौका मुआयना किया और परिस्थितियों का जायजा लिया. बता दें कि बेमेतरा उपजेल में आत्महत्या का पहला मामला नहीं है. इसके पूर्व भी इस तरह की घटनाएं हो चुकी है. लगभग 2 साल पहले भी संजय टंडन की पीट पीट कर हत्या कर दी गई थी. वह शांति भंग के आरोप में बंद था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज