Home /News /chhattisgarh /

भिलाई में खुद कानून के साथ खेल रही पुलिस

भिलाई में खुद कानून के साथ खेल रही पुलिस

भिलाई में पुलिस खुद कानून के साथ खेल रही है। संगीन मामलों के अपराधी खुलेआम शहर में घूम रहे हैं और तो और वे पूरी दबंगई के साथ बता भी रहे हैं कि वे पिछले कई महीने से शहर में ही हैं। वहीं थानों में ये आरोपियों को पुलिस फरार बता रही है, जिससे पुलिस की कार्यशैली पर भी गंभीर सवाल उठ रहे हैं।

भिलाई में पुलिस खुद कानून के साथ खेल रही है। संगीन मामलों के अपराधी खुलेआम शहर में घूम रहे हैं और तो और वे पूरी दबंगई के साथ बता भी रहे हैं कि वे पिछले कई महीने से शहर में ही हैं। वहीं थानों में ये आरोपियों को पुलिस फरार बता रही है, जिससे पुलिस की कार्यशैली पर भी गंभीर सवाल उठ रहे हैं।

भिलाई में पुलिस खुद कानून के साथ खेल रही है। संगीन मामलों के अपराधी खुलेआम शहर में घूम रहे हैं और तो और वे पूरी दबंगई के साथ बता भी रहे हैं कि वे पिछले कई महीने से शहर में ही हैं। वहीं थानों में ये आरोपियों को पुलिस फरार बता रही है, जिससे पुलिस की कार्यशैली पर भी गंभीर सवाल उठ रहे हैं।

अधिक पढ़ें ...
भिलाई में पुलिस खुद कानून के साथ खेल रही है। संगीन मामलों के अपराधी खुलेआम शहर में घूम रहे हैं और तो और वे पूरी दबंगई के साथ बता भी रहे हैं कि वे पिछले कई महीने से शहर में ही हैं। वहीं थानों में ये आरोपियों को पुलिस फरार बता रही है, जिससे पुलिस की कार्यशैली पर भी गंभीर सवाल उठ रहे हैं।

पुलिस ने जिन आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया है, उनकी गिनती रसूखदारों में होती है और कइयों के पीछे बड़े नेताओं का हाथ भी बताया जा रहा है। वैसे ही पिछले हफ्ते बीएसपी में ठेका श्रमिक महिला के साथ एक बीएसपी कर्मचारी व दो ठेकाकर्मियों ने मिलकर सहेली लॉज में दुष्कर्म किया था।

जिसकी रिपोर्ट पीड़िता ने छावनी थाने में लिखाई, लेकिन हफ्तेभर बाद भी पुलिस तीनों आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। वैसे ही दूसरा मामला सुपेला थाने में एक वर्ष पहले आया था, जहां एक पार्षद हरिओम तिवारी के ऊपर 7 साल की बच्ची के साथ लैंगिक अपराध करने का आरोप है और घटना के बाद से कुछ दिन फरार थे।

लेकिन, कुछ माह से शहर में ही दिखाई दे रहे हैं, जबकि पुलिस उसे अब भी फरार बता रही है और सुपेला पुलिस ने उन्हें तब भी गिरफ्तार नहीं किया था। जब वे रिपोर्ट दर्ज होने के एक सप्ताह तक भिलाई में ही घुम रहे थे। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि भिलाई की पुलिस शिकायतों, मामलों के प्रति कितना गंभीर है। वहीं, इस मामले में जब अधिकारियों से बात की गई तो वे फरार आरोपियों की पताशाजी करने की बात कह रहे हैं।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर