लाइव टीवी

बीजापुर: 2 साल में ही खंडहर हो गया 1 करोड़ 5 लाख रुपये से बना भैरमगढ़ बस स्टैंड

Mukesh Chandrakar | News18 Chhattisgarh
Updated: November 27, 2019, 4:13 PM IST
बीजापुर: 2 साल में ही खंडहर हो गया 1 करोड़ 5 लाख रुपये से बना भैरमगढ़ बस स्टैंड
भैरमगढ़ बस स्टैण्ड का सही इस्तेमाल नहीं हो पा रहा है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) में राजनीति का केन्द्र माने जाने वाले भैरमगढ़ (Bhairamgarh) में 1 करोड़ 5 लाख रुपये की लागत से बना प्रतीक्षा बस स्टैण्ड (Bus Stand) बिन इस्तेमाल किये खण्डहर में तब्दील होता जा रहा है.

  • Share this:
बीजापुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) में राजनीति का केन्द्र माने जाने वाले भैरमगढ़ (Bhairamgarh) में 1 करोड़ 5 लाख रुपये की लागत से बना प्रतीक्षा बस स्टैंड (Bus Stand) बिन इस्तेमाल किये खण्डहर में तब्दील होता जा रहा है. हैरान कर देने वाली बात यह है कि 2 साल पहले बने इस स्टैंड से महज 1 किलोमीटर की दूरी पर ही छत्तीसगढ़ सरकार के पूर्व मंत्री और बीजापुर (Bijapur) के पूर्व विधायक महेश गागड़ा के साथ ही वर्तमान विधायक और राज्य मंत्री विक्रम शाह मंडावी का घर है. बावजूद इसके इस बस स्टैण्ड का सही इस्तेमाल नहीं हो पा रहा है.

बीजापुर (Bijapur) में नेशनल हाईवे (National Highway) के किनारे बसे नगर पंचायत भैरमगढ़ (Bhairamgarh) में निवासरत नगरवासियों की बरसों पुरानी मांग थी कि भैरमगढ़ में एक बस स्टैंड का निर्माण हो. इसी मांग को पूरा करते हुए पूर्ववर्ती सरकार ने 1 करोड़ 5 लाख रुपये की लागत से बस स्टैंड का निर्माण करवाया. बस स्टैण्ड के निर्माण के लिए 17 लाख 50 हजार की लागत से बस स्टैण्ड परिसर का निर्माण करवाया गया. इसके अलावा 33 लाख 25 हजार रुपये की लागत से सीमेंण्ट कांक्रीट रोड, 9 लाख 50 हजार की लागत से वाटर एटीएम लगवाया गया. 10 लाख रुपये की लागत से यात्रियों की सुविधा के लिए सुलभ शौचालय का निर्माण करवाया गया. इतना ही नहीं बस स्टैण्ड तक आसानी से पहुंचने के लिए 8 लाख रुपये की लागत से 2 पुलिये का भी निर्माण करवाया गया. साथ ही 22 लाख 25 हजार की लागत से नाली निर्माण तक करवा दिया गया.

2 साल में खंडहर
बता दें कि 2 साल पहले बस स्टैंड के लिए सारे निर्माण कार्य पूर्ण कर 2 अक्टूबर 2017 को पूर्व विधायक और छत्तीसगढ सरकार में मंत्री रहे महेश गागड़ा से इस बस स्टैण्ड का विधिवत उद्धघाटन भी करवा दिया गया, मगर प्रशासनिक लापरवाही और राजनैतिक उदासीनता की वजह से इस बस स्टैण्ड का इस्तेमाल आज तक नहीं हो पाया. बस स्टैण्ड होने के बावजूद यात्रि बसें भैरमगढ़ के मुख्य चैराहे पर ही ठहरतीं हैं. जिससे मुख्य मार्ग में जाम जैसी स्थिति निर्मित होते रहती है. नगरवासी मोहित चौहान का आरोप है कि स्थानीय प्रशासन की लापरवाही और राजनैतिक उदासीनता की वजह से बस स्टैण्ड का सदुपयोग नहीं हो पा रहा है. नगर पंचायत उपाध्यक्ष लव कुमार रायडू का कहना है कि स्थानीय विधायक और व्यापारियों से बात कर जल्द ही इस बस स्टैण्ड में यात्री बसों का ठहराया जाएगा.

ये भी पढ़ें: स्टील कारो​बारियों के 30 ठिकानों पर आयकर की दबिश, करोड़ों रुपयों के टैक्स चोरी की आशंका  

छत्तीसगढ़ में निकाय चुनाव का ऐलान, 21 दिसंबर को वोटिंग, 24 को आएंगे रिजल्ट  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बीजापुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 4:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...