लाइव टीवी

बीजापुर में चल रहा इमारती लकड़ियों से फर्नीचर बनाने गोरखधंधा, वन विभाग को भनक तक नहीं
Bijapur News in Hindi

Mukesh Chandrakar | News18 Chhattisgarh
Updated: February 28, 2020, 10:31 AM IST
बीजापुर में चल रहा इमारती लकड़ियों से फर्नीचर बनाने गोरखधंधा, वन विभाग को भनक तक नहीं
विभाग ने कार्रवाई की बात कही है.

हैरान कर देने वाली बात यह है कि वन विभाग को इस गोरखधंधे (Racket) की जानकारी ही नहीं.

  • Share this:
बीजापुर.  छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) जिले में इमारती लकड़ियों का गोरखधंधा बेरोकटोक चल रहा है. हैरान करने वाली बात ये है कि वन विभाग (Forest Department) को इसकी कोई खबर नहीं है. दरअसल, बीजापुर के आवापल्ली वन परिक्षेत्र में स्टेट हाईवे से महज 200 मीटर की दूरी पर इमारती लकड़ियों की अवैध कटाई कर फर्नीचर (Furniture) बनाने का गोरखधंधा पिछले एक महीने से चल रहा है. हैरान कर देने वाली बात यह है कि वन विभाग को इस गोरखधंधे (Racket) की जानकारी ही नहीं.


ये है पूरा मामला





बीजापुर के भोपालपटनम ब्लाॅक के बाद अब उसूर ब्लाॅक के आवापल्ली में भी इमारती लकड़ियों की कटाई कर फर्नीचर बनाकर बेचने का सिलसिला शुरू हो गया है. जानकारी के मुताबिक आवापल्ली वन परिक्षेत्र के दुग्गईगुडा के पटेलपारा निवासी धरमु बुरका के घर में पिछले 1 महीने से इमारती लकड़ियों से फर्नीचर बनाने का काम चल रहा है. इसके लिए गांव में ही लगे विशालकाय सागौन के पेड़ों को काटकर फर्नीचर बनाया जा रहा है. सागौन पेड़ की कटाई के बाद चिरान बनाने के लिए बाकायदा आरा मशीन लगाया गया है.




गांव में ही लगे विशालकाय सागौन के पेड़ों को काटकर फर्नीचर बनाया जा रहा है.





कहा जा रहा है कि पेड़ काटकर चिरान बनाए जाने के बाद फर्नीचर बनाने के लिए तेलंगाना से कारीगर बुलवाए गए थे. करीब 1 महीने तक वन विभाग के नाक के नीछे ये गोरखधंधा चलता रहा. मगर हैरान कर देने वाली बात यह रही कि इस बात की जानकारी उन्हें मीडीया के माध्यम से मिली. ग्रामीणों ने बताया कि आवापल्ली निवासी किसी व्यक्ति दारा पेडों को कटवाकर फर्नीचर बनवाया गया है. वहीं मामला सामने आने के बाद आवापल्ली वन परिक्षेत्र के रेंजर कोटेश्वर चापडी ने तत्काल कार्रवाई की बात कही है.







ये भी पढ़ें: 




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बीजापुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 10:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर