बहन के लव मैरिज से परेशान छात्रा ने HC के चीफ जस्टिस को लिखा खत, कही ये बात...

चीफ जस्टिस ने युवती को रायपुर के सखी वन स्टॉप सेंटर में ही फिलहाल रहने और अच्छे से विचार कर निर्णय लेने कहा है. अब मामले में अगली सुनवाई 8 अगस्त को होगी.

Pankaj Gupte | News18 Chhattisgarh
Updated: July 23, 2019, 10:30 AM IST
बहन के लव मैरिज से परेशान छात्रा ने HC के चीफ जस्टिस को लिखा खत, कही ये बात...
घर के लोगों को परेशान देख युवती की 11 वीं में पढ़ने वाली बहन ने हाईकोर्ट चीफ जस्टिस को पत्र लिखा है. (Demo pic)
Pankaj Gupte
Pankaj Gupte | News18 Chhattisgarh
Updated: July 23, 2019, 10:30 AM IST
मुस्लिम युवक से जैन युवती की शादी के बाद अपने घरवालों को परेशान देखकर 11वीं में पढ़ने वाली छात्रा ने हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को खत लिखा है. पत्र में लड़की ने लिखा कि इस शादी की वजह से उसका पूरा परिवार बेहद परेशान है. चीफ जस्टिस ने शादी रचाने वाली युवती की छोटी बहन के पत्र को बंदिप्रत्यक्षीकरण याचिका के रूप में स्वीकार करने का निर्णय लिया. साथ ही सोमवार को छोटी बहन के पत्र और पिता की याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई की.

सुनवाई के दौरान शादी रचाने वाली युवती खुद कोर्ट में मौजूद थी. मुख्य न्यायाधीश ने उससे 20 मिनट तक अलग से बात की जिसमें युवती ने अपने माता-पिता के साथ नहीं रहने की इच्छा जाहिर की थी. चीफ जस्टिस ने युवती को रायपुर के सखी वन स्टॉप सेंटर में ही फिलहाल रहने और अपने निर्णय पर फिर से विचार करने को कहा है. इस मामले में अगली सुनवाई 8 अगस्त को होगी.

ये है पूरा मामला
दरअसल छत्तीसगढ़ के धमतरी की रहने वाली जैन युवती से स्थानीय युवक मोहम्मद इब्राहिम उर्फ आर्यन आर्य से आर्य समाज मंदिर में शादी की थी. युवक का कहना है कि उसने शादी के पहले हिंदू धर्म अपना लिया था. उसके बाद भी युवती के पिता उसे जबरन अपने साथ ले गए और बंधक बना लिया. इसे लेकर युवक ने कोर्ट में याचिका दायर की थी. हाईकोर्ट ने सुनवाई के बाद युवती को स्वतंत्र जगह या अपने माता-पिता के साथ रहने की छूट दी थी.

युवती की आग्रह पर कोर्ट ने उसे बिलासपुर के गर्ल्स डिग्री कॉलेज के हॉस्टल में रहने की छूट दी. इसके खिलाफ युवक मोहम्मद इब्राहिम ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के आदेश को संशोधित कर युवती को अपने माता-पिता के साथ रहने की मंजूरी दे दी. बाद में युवती के पिता ने हाईकोर्ट में क्रिमिनल रिट पिटीशन दायर कर कहा कि पुलिस उसकी बेटी को उसके मर्जी के खिलाफ सखी सेंटर ले गए है.

वर्तमान में युवती राजधानी रायपुर के सखी सेंटर में है. जबकि उससे शादी रचाने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वहीं युवती की छोटी बहन ने हाईकोर्ट को पत्र लिखा था जिस पर सोमवार को सुनवाई हुई थी.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

सुकमा के भेज्जी इलाके में मुठभेड़, मारा गया एक लाख का इनामी नक्सली 

छत्तीसगढ़: बारिश के लिए करना होगा अभी और इंतजार, मौसम विभाग ने जताई ये आशंका 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 9:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...