Home /News /chhattisgarh /

जीवनदायिनी अरपा नदी का अस्तित्व पड़ा खतरे में

जीवनदायिनी अरपा नदी का अस्तित्व पड़ा खतरे में

    छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले की जीवन दायिनी अंत:सलिला अरपा नदी का अस्तित्व खतरे में है.

    एक ओर शहर की गंदगी और नाले का पानी अरपा को प्रदूषित कर रही है, वहीं अब अरपा के उद्गम स्थल की जमीन पर निर्माण होने से नदी का अस्तित्व भी खतरे में आ गया है.

    इधर अरपा बचाओ समिति और अन्य सामाजिक संगठनों के साथ जिला प्रशासन ने अरपा नदी के उद्गम स्थल को संरक्षित करने की योजना बनाई है.

    गौरतलब है कि बिलासपुर जिला के पेंड्रा के एक किसान के खेत को अरपा नदी का उद्गम स्थल माना जाता है. जो बरसात में ही अपने अस्तित्व में आती है बाकि मौसम में खेत सूखा रहता है और जमीन के अंदर ही अरपा के जल का प्रवाह होता है.

    लेकिन अब उस खेत को किसान ने बेच दिया है और उस जमीन के मालिक ने वहां निर्माण करना शुरू कर दिया है.

    जिसकी सूचना मिलने पर संभागायुक्त ने निर्माण कार्य मे रोक लगाने के निर्देश दे दिए हैं. साथ ही अरपा नदी के उद्गम स्थल को संरक्षित करने के लिए उच्च स्तरीय जांच टीम का गठन किया है

    जिसके माध्यम से अरपा के उद्गम से जुड़े तथ्यों को संधारित कर अरपा के उद्गम स्थल को बचाने का प्रयास करने की बात कही.

    Tags: Pollution

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर