लाइव टीवी

अयोध्या विवाद केस: 'राम के वंशज' को उम्मीद- 'हिंदुओं के पक्ष में ही आएगा फैसला'

Pankaj Gupte | News18 Chhattisgarh
Updated: October 17, 2019, 8:39 AM IST
अयोध्या विवाद केस: 'राम के वंशज' को उम्मीद- 'हिंदुओं के पक्ष में ही आएगा फैसला'
अयोध्या जमीन विवाद मामले में सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला ​सुरक्षित रख लिया है.

अयोध्या (Ayodhya) में विवादित जमीन मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreem Court) में मामले की सुनवाई पूरी हो गई.

  • Share this:
बिलासपुर. अयोध्या (Ayodhya) में विवादित जमीन मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreem Court) में मामले की सुनवाई पूरी हो गई. सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला ​सुरक्षित रख लिया है. अब कभी भी मामले में सुप्रीम कोर्ट अपना आदेश जारी कर सकता है. इसी बीच खुद को राम का वंशज होने का दावा करने वाले छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) हाई कोर्ट (High Court) अधिवक्ता हनुमान अग्रवाल ने फैसले को लेकर उम्मीद जताई है. हनुमान अग्रवाल को उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला हिंदुओं के पक्ष में ही आएगा.

बिलासपुर (Bilaspur) के हनुमान अग्रवाल ने खुद को श्री राम (Ram) का वंशज बताते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreem Court) में हलफनामा भी दायर किया है. बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई पूरी होने के बाद हनुमान अग्रवाल ने मीडिया से चर्चा की. हनुमान अग्रवाल (Hanuman Agrawal) का कहना है कि ये सिर्फ देश के लिए नहीं बल्कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गगोई के लिए भी ऐतिहासिक मौका है. क्योंकि रामजन्मभूमि का मसला लंबे समय से चल रहा है. देश और दुनिया के हिन्दू अयोध्या में राम मंदिर बनने का इंतजार कर रहे हैं.

Chhattisgarh, Bilaspur, ram
हनुमान अग्रवाल ने खुद को श्रीराम का वंशज बताते हुए सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा भी दायर किया है.


बनेगा भव्य मंदिर

हनुमान अग्रवाल ने मीडिया से चर्चा में कहा कि इस अयोध्या मामले में अहम सुनवाई के बाद उन्हें उम्मीद है कि अब फैसला भी हिंदुओं के पक्ष में ही आएगा और रामलला के जन्म स्थान पर ही उनका भव्य मंदिर बनेगा. बता दें कि मामले में सुनवाई के दौरान सीजेआई ने पूछा था कि क्या ​कोई राम का वशंज है. इसपर अलग अलग जगहों से लोगों ने वंशज होने का हलफनामा पेश किया था. इसमें बिलासपुर के हनुमान अग्रवाल भी शामिल थे. हलफनामा पेश करने के बाद वे चर्चा में आए थे.

ये भी पढ़ें: सुपेबेड़ा में किडनी पीड़ित एक और मरीज की मौत, 71 पहुंचा मरने वालों आंकड़ा, राज्यपाल से शिकायत 

'छत्तीसगढ़ के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को सलाखों के पीछे भेजने की तैयारी' 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 8:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...