Home /News /chhattisgarh /

हाईकोर्ट की सुनवाई टली, इस App से हो रही वीडियो कांफ्रेंसिंग को बताया असुरक्षित

हाईकोर्ट की सुनवाई टली, इस App से हो रही वीडियो कांफ्रेंसिंग को बताया असुरक्षित

27 अप्रैल तक नहीं खुलेंगी जिला अदालतें (कॉन्सेप्ट इमेज)

27 अप्रैल तक नहीं खुलेंगी जिला अदालतें (कॉन्सेप्ट इमेज)

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट (Chhattisgarh High court) में शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए होने वाली अहम सुनवाई टल गई है.

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए होने वाली अहम सुनवाई टल गई है. दरअसल, केंद्र सरकार ने एक एडवाइजरी जारी कर सभी शासकीय विभाग और न्यायालयों को सचेत किया है कि उनके द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए उपयोग किए जाने वाले ZOOM APP सुरक्षित नहीं है. केंद्र के इस एडवाइजरी के बाद छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने भी एक नोटिफिकेशन जारी कर आज की होने वाली सुनवाई को 20 अप्रैल तक बढ़ा दिया है. शुक्रवार को तब्लीगी जमात के सर्चिंग, शराब दुकानों और बिलासपुर में कोरोना टेस्ट लैब खोलने की मांग को लेकर दायर याचिकाओं में सुनवाई होनी थी. अब इन सभी मामलों पर 20 अप्रैल को सुनवाई होगी. 
याचिकाकर्ता ममता शर्मा के एडवोकेट रोहित शर्मा ने बताया कि पिछले 2 बार की सुनवाई zoom app से हुई है. पर आज केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट की एडवाइजरी के अनुसार zoom app वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए सुरक्षित नहीं है. इसलिए आज की सुनवाई को 20 अप्रैल के लिए हाईकोर्ट ने बढ़ा दिया है. संभवतः 20 अप्रैल की सुनवाई में किसी अन्य app को उपयोग में लाया जा सकता है.


केंद्र सरकार ने जारी की एडवाइजरी


आपको बता दें कि देश-विदेश में फैले महामारी कोरोना वायरस के चलते पीएम नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लिए पूर्ण लॉकडाउन का घोषणा की थी. उसके बाद से लगातार हाईकोर्ट बंद था. 2 अप्रैल को हाईकोर्ट ने एक और नोटिफिकेशन जारी कर अर्जेंट हियरिंग किए जाने का आदेश जारी किया. 2 अप्रैल के बाद हाईकोर्ट में अर्जेंट हियरिंग में कोरोना वायरस, शराब दुकान, तब्लीगी जमात और बिलासपुर में कोरोना टेस्ट लैब खोलने की मांग को लेकर कई जनहित और हस्तक्षेप याचिकाएं ई-फाइलिंग के माध्यम से दायर हुई.

पहली सुनवाई हाईकोर्ट जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा और जस्टिस गौतम भादुड़ी के स्पेशल डिवीजन बेंच में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शुरू हुई जिसमें सभी अधिवक्तों अपने-अपने घरों से वीसी के जरिए बहस किया. दूसरी सुनवाई 14 अप्रैल को हुई और आज तीसरी सुनवाई होनी थी. पर सुरक्षा के लिहाज से केंद्र सरकार ने ZOOM APP के जरिए हो रहे वीडियो कांफ्रेंसिंग को सुरक्षित नहीं माना और ZOOM APP से सुनवाई नहीं करने एडवाइजरी जारी कर दिया.  केंद्र के इस एडवाइजरी को हाईकोर्ट ने गंभीरता से लेते हुए शुक्रवार को होने वाली सुनवाई को अगले 20 अप्रैल के लिए बढ़ा दिया है.



Tags: Bilaspur district, Chhattisgarh news, छत्तीसगढ़

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर