लाइव टीवी

बिलासपुर गैंगरेप केस: पीड़िता ने कहा- 'रेप से पहले मेरे साथ मारपीट की गई'

निलेश त्रिपाठी | News18 Chhattisgarh
Updated: December 3, 2019, 1:29 PM IST
बिलासपुर गैंगरेप केस: पीड़िता ने कहा- 'रेप से पहले मेरे साथ मारपीट की गई'
बिलासपुर के गौरला थाना क्षेत्र में हुए गैंगरेप मामले में पुलिस ने पीड़िता का बयान दर्ज कर लिया है. सांकेतिक फोटो.

गैंग रेप (Gang Rape) पीड़िता (Victim) ने पुलिस को बताया है कि वो अपने बचाव में जितना चिल्ला रही थी, आरोपी उसके साथ उतना ही मारपीट कर रहे थे.

  • Share this:
बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में बिलासपुर (Bilaspur) के गौरेला (Gaurela) थाना क्षेत्र में हुए गैंगरेप (Gang Rape) मामले में पुलिस (Police) ने पीड़िता का बयान दर्ज कर लिया है. पीड़िता (Victim) ने पुलिस को बताया है कि रेप (Rape) से पहले आरोपियों ने उसके साथ मारपीट की थी. वो अपने बचाव में जितना चिल्ला रही थी, आरोपी उसके साथ उतना ही मारपीट कर रहे थे. आरोपी उसे बार बार सहयोग करने बोल रहे थे. मना करने पर उसे मारते थे. पुलिस ने पीड़िता से आरोपियों की पहचान कराई. इसके बाद उन्हें जेल दाखिल कर दिया गया है.

बिलासपुर (Bilaspur) के गौरेला पुलिसा थाना के प्रभारी अमित पाटले ने न्यूज 18 को बताया कि पीड़िता की हालत अब खतरे से बाहर है. डॉक्टर जल्द ही उसे अस्पताल से छुट्टी दे सकते हैं. बात कर सकने की स्थिति में बीते सोमवार की देर शाम को पीड़िता का बयान दर्ज किया गया. पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसके साथ रेप की वारदात (Crime) से पहले मारपीट की गई थी.

Chhattisgarh News
देश में रेप और गैंगरेप के आंकड़े.


एक ने रेप किया दूसरा पकड़े रखा

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि मुख्य आरोपी राय सिंह ने उसके साथ रेप किया और मनोज वाकरे ने उसे पकड़ कर रखा था. दोनों ने उसके साथ मारपीट की. राय सिंह के रेप करने के बाद किसी को आता देख दोनों उसे तड़पता छोड़ भाग गए थे. थाना प्रभारी अमित पाटले ने कहा कि घटना के बाद से पीड़िता के साथ दिल्ली के निर्भया केस जैसी हैवानियत की जानकारी मिल रही थी, लेकिन पीड़िता ने अपने बयान में रेप और मारपीट करना ही स्वीकार किया है. चिकित्सकों ने भी ऐसी किसी बात से इनकार किया है. पीड़िता की हालत में तेजी से सुधार हुआ है.

जंगल में वारदात
बिलासपुर गौरेला थाना क्षेत्र के एक गांव में 16 वर्षीय नाबालिग के साथ गैंगरेप (Gang Rape) किया था. बीते 1 दिसंबर को आरोपियों ने वारदात (Crime) को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब नाबालिग घर से कुछ दूर खेत में गाय चराने गई थी. इसी दौरान आरोपी 28 वर्षीय राय सिंह और 20 वर्षीय मनोज वाकरे वहां पहुंचे और नाबालिग का अपहरण कर जंगल में ले जाकर वारदात को अंजाम दिया. पीड़िता वारदात के दौरान लगातार चिल्ला रही थी. घटनास्थल से कुछ दूर पर उसकी बुआ ने आवाज सुनी और वो जंगल की ओर गई तो उसे आते देख आरोपी भाग गए. बुआ ने पीड़िता को उठाया और गौरेला थाना ले गई, जहां से पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया. 2 दिसंबर को पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और पीड़िता से पहचान कराकर उन्हें जेल दाखिल कर दिया गया.ये भी पढ़ें:
छत्तीसगढ़: नाबालिग से गैंगरेप के बाद 'निर्भया' जैसी हैवानियत, 2 आरोपी गिरफ्तार 

छत्तीसगढ़ की वो मां, जो अपने 'गे' बेटे के लिए दूल्हा लाने तैयार है  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 1:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर