छात्राओं को छेड़ रहे मनचले नहीं पहचान पाए एसडीपीओ और थानेदार को, हो गई ठुकाई

बिलासपुर के कन्या हाई स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं को छेड़ रहे मनचले बगैर पुलिस की वर्दी के निकले एसडीपीओ और थानेदार को नहीं पहचान पाए और उनकी जमकर ठुकाई हो गई.

News18 Chhattisgarh
Updated: August 5, 2019, 11:12 AM IST
छात्राओं को छेड़ रहे मनचले नहीं पहचान पाए एसडीपीओ और थानेदार को, हो गई ठुकाई
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18 Chhattisgarh
Updated: August 5, 2019, 11:12 AM IST
बिलासपुर के कन्या हाई स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं को परेशान करने वाले मनचलों के खिलाफ पुलिस ने शनिवार को कार्रवाई की. पुलिस ने उनकी जमकर पिटाई की और साथ ही भविष्य में ऐसी हरकत नहीं करने की हिदायत भी दी. इसके साथ सब डिवीजनल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) ने विद्यालय में छात्राओं को ऐसे मनचलों के खिलाफ आवाज उठाने के लिए प्रोत्साहित किया.

प्रतीकात्मक तस्वीर


शहर के कोटला मैदान में कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय है. यहां 15 किलोमीटर से भी छात्राएं पढ़ने के लिए आती हैं. इनमें सांवाडबरा, सिलतरा, करनकापा, अमलीकापा, पकरिया सेमरचुवा, ठकुरीकापा सहित आसपास के कई गांवों की छात्राएं शामिल हैं. मनचले सड़क पर इन छात्राओं पर छींटाकसी करके परेशान किया करते थे. इसकी सूचना पुलिस को दी गई थी. इसी के बाद एसडीपीओ अभिषेक सिंह के नेतृत्व में विभिन्न चौक चौराहों और सड़कों पर ऑपरेशन मजनूं चलाया और सड़कों पर अवारागर्दी करते पाए गए ऐसे मनचलों की खूब पिटाई भी की. इतना ही नहीं इन्हें ताकीद भी की गई कि भविष्य में यदि और ऐसी गलती करते पाए जाने पर अभिवावको गई तो पालकों को भी थाने में बुलाया जाएगा.

एसडीपीओ ने छात्राओं से कहा-कोई परेशान करे तो तत्काल पुलिस को दो सूचना

बगैर वर्दी के पुलिस एसडीपीओ अभिषेक सिंह सहित थाना प्रभारी राकेश चौबे पुलिस बल के साथ घूम रहे थे. इस वजह से मनचले उन्हें पहचान नहीं पाए और चपेट में आते गए. जब एक दो- लोगों को मार पड़ी तो मनचले रास्ते बदलते नजर आए. आए दिन स्कूल लगने और छुट्टी के समय दोपहिया वाहन में खूब फर्राटे भरते रहते हैं पर शनिवार को पुलिसिया कार्रवाई के कारण सब बंद हो गया. इसके बाद स्कूल में एसडीपीओ ने छात्राओं से कहा कि भविष्य में या कभी भी कोई व्यक्ति परेशान करे या छेड़खानी करे तो इसकी सूचना तत्काल पुलिस को या रक्षा टीम को दें. सूचना देने वालों का नाम गोपनीय रखा जाएगा. छात्राओं को भी हिम्मत के साथ सामना करने को कहा गया. इस अवसर पर प्राचार्य नरेश दुबे जितेंद्र शुक्ला, एस के पाण्डेय, रश्मि मिश्रा सहित कई शिक्षक उपस्थित रहे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 8:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...