• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • Chhattisgarh: स्काई हॉस्पिटल डायरेक्टर को किडनैप करने वाले UP से गिरफ्तार, पुलिस को यूं मिली सफलता

Chhattisgarh: स्काई हॉस्पिटल डायरेक्टर को किडनैप करने वाले UP से गिरफ्तार, पुलिस को यूं मिली सफलता

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में स्काई हॉस्पिटल के डायरेक्टर का अपहरण करने वालों को पुलिस ने यूपी से गिरफ्तार किया है.

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में स्काई हॉस्पिटल के डायरेक्टर का अपहरण करने वालों को पुलिस ने यूपी से गिरफ्तार किया है.

Chhattisgarh News: स्काई हॉस्पिटल के डायरेक्टर प्रदीप अग्रवाल की किडनैपिंग ने बिलासपुर में सनसनी फैला दी थी. अपहरण का सुनते ही पुलिस के हाथ-पांव फूल गए थे. इसके बाद पुलिस ने एक्शन प्लान बनाया. उसके तहत 5 आरोपियों को यूपी के मुरादाबाद से गिरफ्तार किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) जिले में सनसनी फैला देने वाले अपहरण कांड में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस ने स्काई अस्पताल के डायरेक्टर प्रदीप कुमार अग्रवाल का अपहरण करने वाले पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पांचों आरोपी उत्तर प्रदेश में मिले. इन्हें ट्रांजिट रिमांड पर यहां लाया जाएगा. इनकी गिरफ्तारी के लिए बिलासपुर पुलिस ने लगातार छापे मारे.

    पुलिस ने इस ऑपरेशन को सफल बनाने के लिए बिलासपुर से लेकर उत्तर प्रदेश तक लगे करीब 500 CCTV फूटेज को चेक किया. जानकारी के मुताबिक, 19 सितंबर को पुलिस को सूचना मिली की स्काई हॉस्पिटल, सरकंडा के डायरेक्टर 42 वर्षीय डॉ. प्रदीप अग्रवाल लापता हो गए हैं. पुलिस को पता चला कि शाम करीब 5 बजे वे अपनी फोर्ड फिगो कार (CG 10 AJ 1606) से बिना बताए कहीं चले गए हैं. इसके बाद हॉस्पिटल के स्टाफ मेंबर राकेश गर्ग ने सरकंडा थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई.

    अंजान शख्स ले गया चेक बुक

    इस बीच पता चला कि शाम 7 बजे कोई अंजान शख्स प्रदीप अग्रवाल की कार में आया और अस्पताल से उनकी चेक बुक ले गया. इसके बाद प्रदीप अग्रवाल का कहीं कुछ पता नहीं चला. उनका मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया. मामला गंभीर होता देख सरकुंडा थाना प्रभारी निरीक्षक परिवेश तिवारी ने इसकी सूचना बिलासपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बिलासपुर दीपक झा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) उमेश कश्यप, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निमेष बरैया को दी. इस सूचना पर वरिष्ठ अधिकारियों ने तत्काल थाना प्रभारी को स्टाफ के साथ घटनास्थल पर जाकर गहराई से जाचं करने के निर्देश दिए.

    पैसों को लेकर पुराना विवाद आया सामने

    इसके बाद सरकंडा थाने के साथ साइबर सेल के अधिकारियों की अलग-अलग टीमें तैयार की गईं. हर रास्ते के CCTV फूटेज चेक किए गए. इस दौरान पुलिस की एक टीम ने अस्पताल के स्टाफ से भी गहराई से पूछताछ की. पता चला कि प्रदीप अग्रवाल का अस्पताल के पूर्व स्टाफ डॉ. शैलेंद्र मसीह, डॉ. मोहम्मद आरिफ और टेक्नीशियन फिरोज खान से विवाद चल रहा था. विवाद पैसे के लेनदेन पर था.

    एक साथ मिल गए सभी आरोपी

    जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने डॉ. मोहम्मद आरिफ और फिरोज खान की तलाश में एक टीम उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद भेजी. यहां सभी आरोपी बताए हुए ठिकाने पर मिल गए. पुलिस ने आरोपी शैलेंद्र मशीह, मोहम्मद आरिफ, फिरोज खान, रिजवान व एक अन्य ड्राइवर आरिफ को गिरफ्तार कर लिया. सभी को ट्रांजिट रिमांड लेकर बिलासपुर लाया जाना है. पुलिस ने उनके पास से उत्तर प्रदेश में रजिस्टर्ड होंडा और अर्टिगा कार जब्त की है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज