बिलासपुर में डेंगू का कहर जारी, 31 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव
Bilaspur News in Hindi

बिलासपुर में डेंगू का कहर जारी, 31 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव
बिलासपुर में 31 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है. सांकेतिक फोटो.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) जिले में डेंगू (Dengue) के खिलाफ भले ही अभियान चलाया जा रहा हो पर मरीजों की संख्या पर यह बेअसर ही नजर आ रहा है.

  • Share this:
बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) जिले में डेंगू (Dengue) के खिलाफ भले ही अभियान चलाया जा रहा हो पर मरीजों की संख्या पर यह बेअसर ही नजर आ रहा है. पिछले दो मीहने में जिले में 31 मरीजों में डेंगू (Dengue) की पुष्टि हो चुकी है. यह आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. हैरानी की बात यह है कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी हालात के नियंत्रण में होने का दावा कर रहे हैं, लेकिन अस्पतालों में डेंगू के मरीजों की बढ़ती संख्या से इन दावों पर सवाल खड़े हो रहे हैं.

बिलासपुर (Bilaspur) में बारिश के बाद मच्छरों (Mosquitoes) से फैलने वाली बीमारियों को रोकने के लिए शासन के निर्देश पर संचारी रोग नियंत्रण अभियान शुरू किया गया था. उसके बाद भी लोगों को विभाग द्वारा जागरूक नहीं किया जा सका. स्थानीय लोगों का कहना है कि लगातार डेंगू के मरीजों की बढ़ती संख्या का सामने आना विभाग की कार्यों को लेकर कसावट और लापरवाही को दर्शाता है. डेंगू की बढ़ती संख्या पर अंकुश लगाने विभाग फेल साबित हो रहा है.

ये है मरीजों का हला
बिलासपुर के सिम्स में आधा दर्जन से अधिक और अपोलो में 3 डेंगू से पीड़ितों का उपचार चल रहा है. इसके अलावा जिला अस्पताल व अन्य निजी अस्पतालों में भी डेंगू के मरीज इलाज करा रहे हैं. जिले में इनकी कुल संख्या 31 है. प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने डेंगू के रोकथाम के लिए किए गए कार्यों की समीक्षा करने की बात कही है. सिम्स की पीआरओ डॉ. आरती का कहना है कि डेंगू के मरीजों का इलाज जारी है. फिलहाल स्थिति सामान्य है.
ये भी पढ़ें: अस्पताल की लिफ्ट में नवजात संग 2 घंटे तक फंसा रहा पूरा परिवार, पुलिस ने ऐसे बचाई जान 



डेढ़ महीने से मुसीबत में फंसे इन बंदरों को है 'राम' का इंतजार, प्रशासन कर रहा ये काम 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज