लाइव टीवी

सरकारी भूमि पर अतिक्रमण कर मछली पालन के मामले में HC सख्त, मांगा सरकार से जवाब
Bilaspur News in Hindi

Pankaj Gupte | News18 Chhattisgarh
Updated: December 5, 2019, 9:52 AM IST
सरकारी भूमि पर अतिक्रमण कर मछली पालन के मामले में HC सख्त, मांगा सरकार से जवाब
हाईकोर्ट ने संबंधित मामले में राज्य शासन के अधिवक्ता से कार्रवाई की स्थिति की जानकारी लेने कहा है.

बिलासपुर हाईकोर्ट (Bilaspur High Court) ने कांकेर (Kanker) जिले के पंखाजूर (Pakhanjur) में जनहित उपयोग की भूमि पर अतिक्रमण (Encroachment) कर मछली पालन (Fisheries) करने के मामले में शासन (Government) से जवाब मांगा है.

  • Share this:
बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में बिलासपुर हाईकोर्ट (Bilaspur High Court) ने कांकेर (Kanker) जिले के पंखाजूर (Pakhanjur) में जनहित उपयोग की भूमि पर अतिक्रमण (Encroachment) कर मछली पालन (Fisheries) करने के मामले में शासन (Government) से जवाब मांगा है.

पूरा मामला

दरअसल, सरकारी भूमि पर अतिक्रमण कर मछली पालन करने की शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर हाईकोर्ट ने शासन से जवाब तलब किया है. मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस के डिवीजन बेंच में हुई.

मिली जानकारी के मुताबिक कांकेर के रहने वाले देवाशीष राय ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका देकर बताया है कि गांव के ही रहने वाले प्रेमदास द्वारा 10 एकड़ सरकारी भूमि पर कब्जा कर वहां मछली पालन किया जा रहा है. याचिका में बताया गया है कि ये भूमि सरकारी स्कूल (Government School) के लिए आवंटित थी. साथ ही इस भूमि का एक हिस्सा वन का है, जो गांव और स्कूल के लिए आने-जाने का रास्ता था.

याचिका में कहा गया है कि इस भूमि पर डबरी बनाकर अब यहां मछली पालन किया जा रहा है. इस कारण यहां आने-जाने में गांव के लोगों को परेशानी हो रही है. कलेक्टर द्वारा कार्रवाई किए जाने के आदेश के बाद भी तहसीलदार कार्रवाई नहीं कर रहे हैं. लिहाजा, अब इस पूरे मामले को सुनने के बाद बिलासपुर हाईकोर्ट ने राज्य शासन (State Government) के अधिवक्ता से कार्रवाई की स्थिति की जानकारी लेने कहा है.

ये भी पढ़ें:- भिलाई डबल मर्डर केस: 10वीं में पास कराने के लिए पैसा मांग रहा था स्कूल संचालक

ये भी पढ़ें:- छत्तीसगढ़: 2019 में 231 बार नक्सलियों ने किया हमला, मारे गए 72 नक्सली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 9:52 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर