Home /News /chhattisgarh /

यूनीसेफ और पुलिस के प्रयास से महासमुंद बना 'बाल मित्र' जिला

यूनीसेफ और पुलिस के प्रयास से महासमुंद बना 'बाल मित्र' जिला

बच्चों के साथ होने वाले अपराधों को रोकने के लिए छत्तीगढ़ के महासमुंद जिले की पुलिस बेहद गंभीर है. बाल अपराधों को रोकने और महासमुंद को बाल मित्र जिला बनाने के लिए पुलिस पिछले एक साल में यूनीसेफ की मदद से कई कार्यशालाएं भी आयोजित कर चुकी है. इसके परिणामस्वरूप आज महासमुंद जिला पूरे प्रदेश में बाल मित्र जिला घोषित हो चुका है.

बच्चों के साथ होने वाले अपराधों को रोकने के लिए छत्तीगढ़ के महासमुंद जिले की पुलिस बेहद गंभीर है. बाल अपराधों को रोकने और महासमुंद को बाल मित्र जिला बनाने के लिए पुलिस पिछले एक साल में यूनीसेफ की मदद से कई कार्यशालाएं भी आयोजित कर चुकी है. इसके परिणामस्वरूप आज महासमुंद जिला पूरे प्रदेश में बाल मित्र जिला घोषित हो चुका है.

बच्चों के साथ होने वाले अपराधों को रोकने के लिए छत्तीगढ़ के महासमुंद जिले की पुलिस बेहद गंभीर है. बाल अपराधों को रोकने और महासमुंद को बाल मित्र जिला बनाने के लिए पुलिस पिछले एक साल में यूनीसेफ की मदद से कई कार्यशालाएं भी आयोजित कर चुकी है. इसके परिणामस्वरूप आज महासमुंद जिला पूरे प्रदेश में बाल मित्र जिला घोषित हो चुका है.

अधिक पढ़ें ...
    बच्चों के साथ होने वाले अपराधों को रोकने के लिए छत्तीगढ़ के महासमुंद जिले की पुलिस बेहद गंभीर है. बाल अपराधों को रोकने और महासमुंद को बाल मित्र जिला बनाने के लिए पुलिस पिछले एक साल में यूनीसेफ की मदद से कई कार्यशालाएं भी आयोजित कर चुकी है. इसके परिणामस्वरूप आज महासमुंद जिला पूरे प्रदेश में बाल मित्र जिला घोषित हो चुका है.

    इसी क्रम में शनिवार को छत्तीसगढ़ के महासमुंद में पुलिस ने राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में 'हमर पुलिस हमर संग' मुहिम में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत कार्यक्रम का आयोजन किया.

    कार्यक्रम में जर्मनी की यूनीसेफ की सदस्य हैनरीएट दंपति, बाल आयोग की अध्यक्ष शताब्दि पाण्डेय, यूनिसेफ के स्टेट हेड प्रशांत दास, गारगी शाहा, खल्लारी विधायक चुन्नी लाल साहू, एसपी नेहा चम्पावत सहित आस्था संस्था के सदस्य और स्कूल व कॉलेज की छात्राएं शामिल हुईं.

    महासमुंद पुलिस के इस अभियान को प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पूरे प्रदेश के लिए एक मॉडल अभियान के रूप में लागू किया है. इसी कड़ी में यूनीसेफ के जर्मनी सदस्य हैनरीएट दंपति महासमुद पहुंचे और थाने में बनाए गए बाल मित्र कक्ष का निरीक्षण कर सदस्यों से मुलाकात की.

    कार्यक्रम में शिरकत के दौरान हैनरीएट ने पूरे कार्यक्रम को सराहा और पुलिस द्वारा बाल अपराधों में कमी लाने के लिए चलाए जा रहे अभियान की तारीफ की और दिल्ली जैसी मेट्रो सिटी में भी इस अभियान की रूप रेखा को अपनी बड़ी उपलब्धि बताया.

    कार्यक्रम में बालिकाओं को आत्मरक्षा के लिए सिखाए जा रहे कराटे का डेमो प्रस्तुत किया गया. साथ ही उत्कृष्ट कार्य करने वाले बाल मित्रों को सम्मानित भी किया गया. उसके बाद विभिन्न स्कूलों की छात्र-छात्राओ ने रंगारंग सास्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर