बैंक की गलती के लिए ग्राहक को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता: HC

हाईकोर्ट ने बैंक की गलती के लिए ग्राहक को जिम्मेदार ठहराने वाले आदेश को निरस्त कर दिया है.

Pankaj Gupte | News18 Chhattisgarh
Updated: October 14, 2018, 11:00 AM IST
बैंक की गलती के लिए ग्राहक को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता: HC
demo pic
Pankaj Gupte
Pankaj Gupte | News18 Chhattisgarh
Updated: October 14, 2018, 11:00 AM IST
छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने बैंक की गलती के लिए ग्राहक को जिम्मेदार ठहराने वाले आदेश को निरस्त कर दिया है. दरअसल, रमेश कुमार ने हिंदुस्तान मोटर्स के अधिकृत विक्रेता से पार्ट्स लेने के लिए पंजाब नेशनल बैंक बिलासपुर शाखा से 4 लाख 50 हजार रुपए का बैंक ड्राफ्ट बनवाकर प्रस्तुत किया था. इस पर विक्रेता ने बैंक से जानकारी ली. बैंक ने ड्राफ्ट सही होने की पुष्टि की. इसके बाद रमेश को पार्ट्स दे दिए गए.

विक्रेता ने ड्राफ्ट अपने इलाहाबाद बैंक की शाखा में भुगतान के लिए जमा की थी. पीएनबी ने इलाहाबाद बैंक को राशि भी ट्रांसफर भी कर दिया. इसके बाद पार्ट्स विक्रेता को ड्राफ्ट गलत होने की बात कहते हुए भुगतान करने को कहा गया. बैंक ने राशि लौटाने के लिए पत्र जारी किया. भुगतान नहीं होने पर बैंक ने न्यायालय में परिवाद दायर किया. न्यायालय ने बैंक के पक्ष में डिक्री पारित करते हुए 4 लाख 50 हजार रुपए वसूल करने का आदेश दिया.

इसके खिलाफ मोटर पार्ट्स विक्रेता ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की, जिसमें कहा गया कि खरीददार द्वारा प्रस्तुत ड्राफ्ट की जांच कराई गई थी. उस ड्राफ्ट को बैंक ने ही जारी करने की पुष्टि की थी. हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान अपने आदेश में कहा कि बैंक की गलती के लिए ग्राहक को जिम्मेदार ठहराया नहीं जा सकता है. इसके बाद हाईकोर्ट ने सिविल न्यायालय से पारित आदेश को निरस्त कर दिया.

ये भी पढ़ें:- गठबंधन के बाद पहली रैली में बोली मायावती,”पूर्ण बहुत से छत्तीसगढ़ में बनेगी JCCJ-बसपा की सरकार”

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ा झटका, बीजेपी में शामिल हुए पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर