छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों में हो रही बारिश से नदियों और बांधों के जलस्तर में वृद्धि

छत्तीसगढ़ में मॉनसून पूरी तरह से सक्रिय हो चुका है. प्रदेश के कई इलाकों में लगातार हो रही बारिश से नदी-नालों और बांधों में पानी भरने लगा है.

News18 Chhattisgarh
Updated: July 11, 2019, 2:02 PM IST
छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों में हो रही बारिश से नदियों और बांधों के जलस्तर में वृद्धि
बिलासपुर - ग्रामीण क्षेत्रों में भारी बारिश से जलाशयों के जलस्तर में वृद्धि
News18 Chhattisgarh
Updated: July 11, 2019, 2:02 PM IST
छत्तीसगढ़ में मॉनसून पूरी तरह से सक्रिय हो चुका है. प्रदेश के कई इलाकों में लगातार हो रही बारिश से नदी-नालों और बांधों में पानी भरने लगा है. इससे किसानों के चेहरे खिल गए हैं. बात करें बिलसापुर से सटे ग्रामीण क्षेत्रों की तो भारी बारिश के कारण खुड़िया, घोंघा और खूंटाघाट बांध के जलस्तर में तेजी से ढ़ोतरी होने लगी है. पिछले तीन चार दिनों में ही खूंटाघाट बांध के जलस्तर में कम-से-कम 10 प्रतिशत का इजाफा देखने को मिला है. यहां जलस्तर 19 प्रतिशत से बढ़कर 27 प्रतिशत रिकॉर्ड किया गया है. बता दें कि यहां कोरबा के पाली विकासखंड की तरफ बरसात होने से पानी जमा होता है.

बैराज के दो गेट खोले गए

इसके अलावा अरपा-भैंसाझार बैराज आधा से अधिक भर गया है. यहां भारी बरसात होने के कारण पानी का ज्यादा बहाव हो रहा है. इसके चलते बैराज के दो गेट खोल दिए गए हैं. इसे पहली बार भरा जा रहा है.

इसी तरह अचानकमार टाइगर रिजर्व में बरसात होने से मुंगेली के खुड़िया बांध का जलस्तर बढ़कर 30 प्रतिशत हो गया है. वहीं बारिश से कोटा के घोघा जलाशय में जल स्तर बढ़कर 25 प्रतिशत हो गया है. लगातार हो रही बारिश से खुश हुए किसान इसे खेती के लिए अच्छा संकेत मान रहे हैं. नदी-नालों के भरने से किसान अच्छी खेती की उम्मीद करने लगे हैं.

ये भी पढ़ें - ससुराल से लापता बेटी की तलाश में हाई कोर्ट पहुंची एक मां

ये भी पढ़ें - बलौदाबाजार में गंदा पानी पीने से 50 से ज्यादा बच्चे बीमार
First published: July 11, 2019, 2:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...