लाइव टीवी

RPF जवानों को सोशल मीडिया से दूर रखने के लिए रेलवे डीजी ने जारी किया ये फरमान

News18 Chhattisgarh
Updated: September 17, 2019, 12:30 PM IST
RPF जवानों को सोशल मीडिया से दूर रखने के लिए रेलवे डीजी ने जारी किया ये फरमान
RPF जवान को सोशल मीडिया से दूर रहने के लिए गाइडलाइन जारी की गई है. (सांकेतिक तस्वीर)

रेलवे सुरक्षा बल (Railway Protection Force) के जवानों को सोशल मीडिया (Social Media) इस्तेमाल करने पर पाबंदी (Restriction) लगा दी गई है.

  • Share this:
बिलासपुर. रेलवे सुरक्षा बल (Railway Protection Force) के जवानों को सोशल मीडिया (Social Media) इस्तेमाल करने पर पाबंदी (Restriction) लगा दी गई है. रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक (Director General) अरुण कुमार (Arun Kumar) ने छत्तीसगढ़ समेत देशभर में उन्हें ड्यूटी के दौरान धार्मिक कार्यक्रमों से दूरी बनाने के निर्देश दिए हैं. साथ ही उन्हें किसी भी सोशल मीडिया पर वर्दी में अपनी फोटो अपलोड न करने के सख्त निर्देश दिए गए हैं. महानिदेशक ने आरपीएफ के अधिकारियों और जवानों के लिए डायरेक्टिव-54 (directive 54) के तहत ये निर्देश दिए हैं. निर्देश पालन नहीं करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है.

रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक के आदेश के बाद सोशल मीडिया में सक्रिय रहने वाले आरपीएफ (Railway Protection Force) जवानों के सामने मुसीबत खड़ी हो गई है. इस आदेश में डीजी ने सभी को समझाइश देते हुए सोशल मीडिया के इस्तेमाल के लिए जरूरी गाइडलाइन (Important Guidelines) भी जारी की है.

गाइडलाइन में उल्लेख की गई ये खास बातें

सोशल मीडिया में व्यक्तिगत अकाउंट (Personal account) इस्तेमाल करने के लिए 33 दिशा-निर्देश दिए गए हैं. इसमें सबसे अहम बात यह है कि आरपीएफ की वर्दी में वे अपनी फोटो नहीं लगा सकते और ना ही आरपीएफ लोगो (RPF LOGO) या ऐसी कोई जगह का बैकग्राउंड (Background) लगा सकते हैं, जो कार्यस्थल के महत्वपूर्ण जगहों से संबंधित हो. उन्हें अपनी पहचान को पूरी तरह गोपनीय (Secret) रखना है.

सोशल मीडिया-social media
RPF को अपनी व्यक्तिगत समस्या को सोशल मीडिया पर उठाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)


सेवा से जुड़ी व्यक्तिगत समस्या को सोशल मीडिया पर उठाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. साथ ही ड्यूटी के समय धार्मिक संगठनों से जुड़ने और सहभागी बनने पर भी पाबंदी लगा दी गई है. त्योहारों के दिनों में किसी भी कार्यक्रम में शामिल होने पर भी रोक लगाई गई है. उन्हें इस दौरान सोशल मीडिया पर सक्रिय नहीं रहने की सख्त हिदायत दी गई है. आदेश का पालन कराने के लिए सभी जोनल और मंडल स्तर पर आरपीएफ के अधिकारियों को निर्देश जारी किया जा चुका है. मिली जानकारी के मुताबिक आरपीएफ के जवान आए दिन अपनी समस्या डीजी को सोशल मीडिया के माध्यम से बता रहे थे. इतना ही नहीं कुछ जवान तो अपनी समस्या के साथ धार्मिक फोटो भी भेज रहे थे.

अनुशासन जरूरी है  
Loading...

रेलवे सुरक्षा बल के डीजी अरुण कुमार ने कहा कि आरपीएफ में अनुशासन जरूरी है. सोशल मीडिया में कुछ जवान अपनी फोटो डाल रहे थे, जिसमें बैकग्राउंड साफ नजर आ रहा था. सुरक्षा के लिहाज से गोपनीयता भंग हो रही थी, इसलिए सोशल मीडिया से दूर रहने के लिए गाइडलाइन जारी की गई है, जिसका पालन नहीं करने पर उचित कार्रवाई भी की जाएगी.

ये भी पढ़ें:- मोबाइल फोन की चोरी में करते थे बच्चों का इस्तेमाल, फिर बेचने जाते थे नेपाल

घर से ड्राइविंग के लिए निकले युवक की पेड़ पर लटकी मिली लाश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 8:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...