पंजाब के बैंक मैनेजर को दी झूठे केस में फंसाने की धमकी, ऐसे पुलिस के हत्थे चढ़े ब्लैकमेलर्स

आरोपियों से 3 लाख रुपए के सोने के जेवरात और 24 हजार रुपए जब्त किया गया है.

Sanjay Manikpuri | News18 Chhattisgarh
Updated: July 26, 2019, 12:39 PM IST
पंजाब के बैंक मैनेजर को दी झूठे केस में फंसाने की धमकी, ऐसे पुलिस के हत्थे चढ़े ब्लैकमेलर्स
आरोपियों से 3 लाख रुपए के सोने के जेवरात और 24 हजार रुपए जब्त किया गया है. (Demo pic)
Sanjay Manikpuri | News18 Chhattisgarh
Updated: July 26, 2019, 12:39 PM IST
ब्लैकमेलिंग कर पैसे की उगाही करने वाले गिरोह को पकड़ने में बिलासपुर की सिविल लाइन पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है. मिली जानकारी के मुताबिक सिविल लाइन पुलिस ने एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों से 3 लाख रुपए के सोने के जेवरात और 24 हजार रुपए जब्त किया गया है. फिलहाल पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.

ये है पूरा मामला

मिली जानकारी के मुताबिक पंजाब के रामामंडी थाना इलाके के पंजाब एंड सिंध बैंक के मैनेजर को छेड़खानी के आरोप में फंसाने की धमकी देकर 5 लोगों ने उनसे 7 लाख की उगाही की थी. इस मामले में पंजाब की रामामंडी पुलिस ने पहले ही दो आरोपियों को पकड़ लिया है, वहीं महिला सहित तीन आरोपी वहां से फरार हो गए थे. आरोपियों ने पैसे के एवज में बैंक मैनेजर से जेवरात ले लिया था.

आरोपियों ने प्रॉपर्टी मोडगेज कर बैंक से 10 लाख रुपए की लोन अप्लाई की थी. बैंक मैनेजर सुशील वर्मा ने आवेदन देखकर प्रॉपर्टी की छानबीन के लिए मौके पर पहुंचे तो आरोपियों ने उन्हे एक कमरे में ले जाकर महिला से मिलवाया. महिला बैंक मैनेजर के साथ थोड़ा देर बात करती रही तभी लगभग 6-7 लोग वहां पहुंच गए और बैंक मैनेजर को छेड़खानी और बलात्कार की कोशिश के आरोप में फंसाने की धमकी दी.

रेप केस में फंसाने की दी थी धमकी

धमकी से बैंक मैनेजर सुशील डर गया और सुशील से आरोपियों ने 10 लाख रुपए की मांग की और मामला 7 लाख रुपए में सेटल हुआ. बैंक मैनेजर ने आरोपियों को कुछ रुपए दिए जिसे लेकर आरोपी फरार हो गए. मामले की रिपोर्ट रामामंडी पुलिस थाने में बैंक मैनेजर ने की. इस मामले में पंजाब पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को पकड़ लिया. वहीं तीन आरोपी फरार हो गए थे.

 
Loading...

बिलासपुर पुलिस खानाबदोश और राहगीरों की पतासाजी कर जानकारी जुटा रही थी. तभी पुलिस को सूचना मिली कि कुछ लोग शहर के अग्रसेन चौक इलाके में सोने के जेवरात बेचने की फिराक में घूम रहे है, सूचना पर सिविल लाइन थाना के प्रभारी ने महिला सब इंस्पेक्टर को ग्राहक बनाकर भेजा और जब जेवरात खरीदी बिक्री की बात हुई तभी महिला सब इंस्पेक्टर ने सूचना देकर पुलिस स्टाफ को बुला लिया.

 

पकड़े गए आरोपियों से जानकारी चाही गई तब आरोपियों ने बताया कि पंजाब के जालंधर क्षेत्र के रहने वाले है. इस मामले में पुलिस ने पंजाब के जालंधर पुलिस से जानकारी जुटाई. जानकारी सामने आने पर पुलिस के होश उड़ गए. सिविल लाइन पुलिस ने आरोपियों को पकड़कर थाने ले आई पूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने ब्लैकमेलिंग कर जेवरात और लगभग 24 हजार नगद की उगाही की थी. इस मामले में सिविल लाइन पुलिस ने  गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से आरोपियों को जेल दाखिल किया गया है.

ये भी पढ़ें: 

मिसाल: ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रही हैं ये ANM कार्यकर्ता, फिर भी 11 सालों से ऐसे कर रही लोगों की मदद

PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में करप्शन, घूसखोर खा गए घर बनाने का पैसा

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिलासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 12:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...