Home /News /chhattisgarh /

Chhattisgarh: धर्म और धर्मांतरण के मुद्दे पर फिर गरमाई सियासत, बीजेपी और कांग्रेस में वार-पलटवार

Chhattisgarh: धर्म और धर्मांतरण के मुद्दे पर फिर गरमाई सियासत, बीजेपी और कांग्रेस में वार-पलटवार

छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण के मुद्दे पर सियासी घमासान बढ़ गया है. कांग्रेस-बीजेपी लगातार एक-दूसरे पर हमला बोल रही है.

छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण के मुद्दे पर सियासी घमासान बढ़ गया है. कांग्रेस-बीजेपी लगातार एक-दूसरे पर हमला बोल रही है.

 Chhattisgarh Politics News: सुकमा कलेक्टर के द्वारा धर्मांतरण (Conversion) को लेकर लिखे गए पत्र के बाद प्रदेश की की राजनीति में गरमा गई है. धर्मांतरण के मुद्दे पर राजनीतिक तकरार लगातार जारी है. बीजेपी (BJP)  ने कांग्रेस (Congress) पर चुनावी लाभ लेने के लिए सरंक्षण देन का आरोप लगाते हुए सरकार के कार्य प्रणाली को कटघरे में खड़ा किया है. बीजेपी के युवा नेता गौरीशंकर श्रीवास का कहना हैं कि धर्मान्तरण को बढ़ावा देना कांग्रेस की डीएनए में मौजूद है. वे चुनावी लाभ लेने और वोटों के ध्रुविकरण के लिए धर्मांतरण को संरक्षण दे रही है.

अधिक पढ़ें ...

सुकमा- छत्तीसगढ़ में नगर निकाय चुनाव (Chhattisgarh Urban Body Election 2021)  होने वाले हैं. ऐसे में राज्य में धर्म के मुद्दे ने एंट्री कर ली है. सुकमा कलेक्टर के द्वारा धर्मांतरण (Conversion) को लेकर लिखे गए पत्र के बाद प्रदेश की की राजनीति में गरमा गई है. धर्मांतरण के मुद्दे पर राजनीतिक तकरार लगातार जारी है. बीजेपी (BJP)  ने कांग्रेस (Congress) पर चुनावी लाभ लेने के लिए सरंक्षण देन का आरोप लगाते हुए सरकार के कार्य प्रणाली को कटघरे में खड़ा किया है. बीजेपी कलेक्टर के पत्र को आधार बनाते हुए बघेल सरकार पर लगातार हमला और प्रदर्शन कर रही है. वहीं धर्मांतरण के पूरे मुद्दे को कांग्रेस ने बीजेपी का प्रोपेगेंडा बताया है.

बीजेपी ने बघेल सरकार को घेरा 

बीजेपी के युवा नेता गौरीशंकर श्रीवास का कहना हैं कि धर्मान्तरण को बढ़ावा देना कांग्रेस की डीएनए में मौजूद है. वे चुनावी लाभ लेने और वोटों के ध्रुविकरण के लिए धर्मांतरण को संरक्षण दे रही है.

बता दें कि बीजेपी का आरोप है कि प्रदेश में धर्मांतरण का तेजी से फैल रहा है. बघेलो सरकार के राजनीतिक संरक्षण में यह षड्यंत्र चल रहा है.  बीजेपी नेताओं के मुताबिक, भोले-भाले आदिवासियों की धार्मिक आस्था, संस्कृति, परंपराओं को धर्मांतरण के जरिए कुचलने के अनेक मामले सामने आने के बावजूद प्रदेश सरकार इसे रोकने का कोई ठोस प्रयास नहीं कर रही है.

कांग्रेस का पलटवार 

बीजेपी के तमाम बयानों पर पलटवार करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि धर्म और धर्मांतरण के मुद्दे को लेकर बीजेपी संप्रदायक रंग देती है. कवर्धा कांड हो या धर्मांतरण का प्रोपेगेंडा बीजेपी को यह दांव भारी पड़ रहा है. बीजेपी सभी जिलों में प्रदर्शन कर चुकी है बावजूद इसके जनता जनार्दन को कांग्रेस पर ही विश्वास है और अब तक बीजेपी इसे जितना उछालेगी उन्हें उतना नुकसान होगा.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पुलिस को स्पष्ट निर्देश दिया है कि कहीं भी धर्मांतरण की कोई भी शिकायत आए तो तत्काल कार्रवाई की जाए. धर्म व्यक्ति की निजी आस्था का विषय है. संविधान सभी व्यक्ति को उसकी इच्छा के अनुसार धर्म के पालन की छूट देता है.

बता दें कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में 10 जिलों के 15 नगरीय निकायों में चुनाव होने वाले हैं. 20 दिसंबर को वोटिंग और 23 दिसंबर को मतगणना होगी. इस साल भी निकाय चुनाव बैलेट पेपर से ही होंगे.+

Tags: Chhattisgarh news, Conversion case

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर