लाइव टीवी
Elec-widget

केरल की इस सीट पर 54 साल बाद 'कांग्रेस' को मिली हार, बाकी 3 सीटों का ऐसा रहा हाल

News18Hindi
Updated: September 27, 2019, 7:57 PM IST
केरल की इस सीट पर 54 साल बाद 'कांग्रेस' को मिली हार, बाकी 3 सीटों का ऐसा रहा हाल
शुक्रवार को चार विधानसभा सीटों के उपचुनाव के नतीजे आए. इनमें दो सीटों पर बीजेपी ने कब्‍जा जमाया.

लोकसभा चुुुुुुुुनावों में (LoKsabha Election) केरल में कांग्रेस (Congress) को प्रदर्शन शानदार रहा. लेकिन पाला सीट (Pala assembly) पर हुए विधानसभा उपचुनाव (Assembly by polls) में लेफ्ट गठबंधन ने कांग्रेस को चौंका दिया. लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट के उम्‍मीदवार मणि सी कप्‍पन ने यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के उम्‍मीदवार जोस टॉम को हरा दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2019, 7:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली: लोकसभा चुनावों (Loksabha elections 2019) में कांग्रेस ने भले पूरे देश में खराब प्रदर्शन किया हो, लेकिन केरल ऐसा राज्‍य रहा, जहां कांग्रेस (Congress) को प्रदर्शन शानदार रहा. ऐसे में जब बारी उपचुनावों (By polls) की आई तो भी कांग्रेस के अच्‍छे प्रदर्शन की उम्‍मीद थी. लेकिन पाला सीट  (Pala assembly) पर हुए विधानसभा उपचुनाव (Assembly by polls) में लेफ्ट गठबंधन ने कांग्रेस को चौंका दिया. लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट के उम्‍मीदवार मणि सी कप्‍पन ने यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के उम्‍मीदवार जोस टॉम को हरा दिया. पिछले 54 साल में ये पहला मौका है, जब यहां पर कांग्रेस की हार हुई है.

दरअसल इस सीट पर 1967 से अब तक केरल कांग्रेस (Kerala Congress) का ही कब्‍जा रहा था. इस पार्टी की स्‍थापना 1964 में की गई थी. ये कांग्रेस गठबंधन का ही हिस्‍सा रही. बाद में इसका इसका नाम केरल कांग्रेस (एम) कर दिया. इसके मुखिया केएम मणि थे. तब से लेकर अब तक वही इस सीट पर जीतते आ रहे थे.

यूडीएफ गठबंंधन में तीसरा सबसे बड़ा दल
कांग्रेस के गठबंधन यूडीएफ (UDF) में केरल कांग्रेस (एम) तीसरा सबसे बड़ा दल है. 1967 से शुरू हुआ केएम मणि की जीत का सिलसिला अब तक जारी था. वह इस सीट पर 1967 से लगातार जीतते आ रहे थे. इस साल अप्रैल में मणि के निधन के बाद ये सीट खाली हुई. इस सीट पर पर हुए उपचुनाव में 71.41 प्रतिशत वोटिंग हुई थी. अब सीट पर एनसीपी (NCP) के मणि सी कप्‍पन का कब्‍जा हो गया है.

चार में से दो सीटों पर बीजेपी का कब्‍जा
इधर अन्‍य राज्‍यों में आए उपचुनावों के नतीजों में दो सीटों पर बीजेपी को जीत मिली है तो एक सीट पर कांग्रेस का कब्‍जा हो गया है. बीजेपी ने यूपी में हमीरपुर सीट जीत ली है. ये सीट बीजेपी एमएलए अशोक कुमार चंदेल के एक मर्डर केस में दोषी पाए जाने के बाद खाली हुई थी. बीजेपी उम्‍मीदवार युवराज सिंह ने सपा उम्‍मीदवार मनोज प्रजापति को 17771 वोट से हराया. उन्‍हें 74168 वोट मिले. वहीं सपा उम्‍मीदवार को 56397 वोट मिले. बीएसपी उम्‍मीदवार को 28749 वोट मिले.

दंतेवाड़ा में बीजेपी से कांग्रेस ने सीट छीनी
Loading...

छत्‍तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में कांग्रेस उम्‍मीदवार देवती कर्मा ने बीजेपी उम्‍मीदवार को हराया. देवती कर्मा दिवंगत कांग्रेस नेता महेंद्र कर्मा की पत्‍नी हैं. उन्‍होंने बीजेपी उम्‍मीदवार ओजस्‍वी मंडावी को हराया. तेजस्‍वी भीमा मंडावी की पत्‍नी हैं. जिनकी नक्‍सलियों ने अप्रैल में हत्‍या कर दी थी.

त्रिपुरा की बाधरघाट विधानसभा के लिए हुए उपचुनाव में बीजेपी उम्‍मीदवार मिमी मजूमदार ने सीपीआई(एम) उम्‍मीदवार बुल्‍टी बिश्‍वास को 5276 वोटों से हराया. यहां हुए उपचुनाव में 79.29 प्रतिशत वोटिंग हुई थी. अप्रैल में विधायक दिलीप सरकार की मौत के बाद ये सीट खाली हुई थी.

यह भी पढ़ें...
Dantewada Bypoll: नक्सलवाद जीता जनता हारी, सरकार के दबाव में थी जनता: बीजेपी

हमीरपुर सीट जीतकर बीजेपी ने तोड़ा उपचुनावों में हार का सिलसिला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दंतेवाड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 27, 2019, 7:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...