• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • सर्वे करने गए PMGSY के तीन इंजीनियर को नक्सलियों ने किया अगवा, फिर किया रिहा

सर्वे करने गए PMGSY के तीन इंजीनियर को नक्सलियों ने किया अगवा, फिर किया रिहा

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हथियार बंद नक्सलियों ने दोनों इंजीनियर का अपहरण किया है.  (Demo PIc)

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हथियार बंद नक्सलियों ने दोनों इंजीनियर का अपहरण किया है. (Demo PIc)

एसपी ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि तीनों इंजीनियरों को समेली के पास रिहा किया गया है.

  • Share this:
दंतेवाड़ा. नक्सलियों ने बंधक बनाए पीएमजीएसवाई के सब इंजीनियरों समेत तीनों व्यक्तियों को रिहा कर दिया है. नक्सलियों की कैद से आजाद होकर तीनों अपहृत सकुशल अरनपुर पहुंच गए हैं. दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने इसकी पुष्टि की है.

बताया जा रहा है कि कुआकोंडा ब्लॉक के अरनपुर थाना क्षेत्र में मुलेर की तरफ जाने वाली एक सड़क बनाई जानी है. जिसके लिए पीएमजीएसवाय के सब इंजीनियर अरुण मरावी और मुंशी सड़क की नपाई करने शुक्रवार को पहुंचे थे. उसी दौरान नक्सलियों ने उन्हें बंधक बना लिया था.

एसडीओ हेमंत बंजारे ने बताया कि नक्सलियों ने तीनों अपहृत को रिहा कर दिया है.

नक्सलियों ने बना रखा है बंधक
मिली जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार दोपहर इंजीनियर मोबाइल कनेक्टिवीट की जांच करने और नए टेंडर की सड़कों का काम देखने दोनों इंजीनियर गए थे. इस दौरान अरनपुर इलाके से नक्सलियों ने इनका अपहरण कर लिया. पीएमजीएसवाय के इंजीनियर संतोष नाग के मुताबिक, कर्मचारियों के अपहरण की सूचना कुआकोंडा थाने में दे दी गई. उनके परिजनों को भी घटना की जानकारी हो गई.

डिजिटलाइजेशन का काम देखने गए थे दोनों
पीएमजीएसवाय के इंजीनियर संतोष नाग से मिली जानकारी के मुताबिक, दोनों अपहरित इंजीनियर बचेली के रहने वाले हैं. अरनपुर क्षेत्र में नक्सलियों ने दोनों को बंधक बनाकर रखा है. अगवा किए गए इंजीनियर में  PMGSY दंतेवाड़ा से अरुण मरावी और कुआकोंडा जनपद में कार्यरत मोहन बघेल बता जा रहे हैं. कहा जा रहा है कि पंचायतों में डिजिटलाइजेशन का कार्य देखने दोनों निकले थे.

प्रशासन ने नहीं की अपहरण की पुष्टि
फिलहाल अपहरण के इस मामले की अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की गई है. कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा अपहरण मामले की कोई जानकारी नहीं है. बताया जा रहा है कि थाने में भी मामले की शिकायत नहीं की गई है.

ग्रामीणों का किया था अपहरण
बता दें कि कुछ दिन पहले दंतेवाड़ा के गुमियापाल इलाके से नक्सलियों ने आदिवासी युवाओं का अपहरण कर लिया था. तकरीबन आठ दिन बाद नक्सलियों ने सभी को रिहा किया था.

ये भी पढ़ें: 

मां ने मोबाइल चलाने पर लगाई डांट, बेटी ने फांसी लगाकर कर ली खुदकुशी 

छत्तीसगढ़ में अगर है रामराज, तो CM भूपेश बघेल वापस ले लें मेरी सुरक्षा: रमन सिंह

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज