• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • नक्सली के साथ ही पन्नी में बांध लाए शहीद का शव, किरकिरी होने पर SP ने दी ये सफाई

नक्सली के साथ ही पन्नी में बांध लाए शहीद का शव, किरकिरी होने पर SP ने दी ये सफाई

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के काम में लगे दो इंजीनियर समेत तीन लोगों का अपहरण नक्सलियों ने कर लिया था.  (सांकेतिक तस्वीर)

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के काम में लगे दो इंजीनियर समेत तीन लोगों का अपहरण नक्सलियों ने कर लिया था. (सांकेतिक तस्वीर)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) में नक्सलियों (Naxalite) से मुठभेड़ (Encounter) के बाद शहीद को लाने को लेकर पुलिस (Police) की किरकिरी हो रही है.

  • Share this:
दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewda) में नक्सलियों (Naxalite) से मुठभेड़ (Encounter) के बाद शहीद का शव लाने को लेकर पुलिस (Police) की किरकिरी हो रही है. सुरक्षा बल के जवानों ने मुठभेड़ में शहीद (Martyr) जवान का शव मारे गए नक्सली के शव के साथ ही पन्नी में बांध कर ले आए. दोनों के शव एक साथ रखकर लाए जाने के बाद से पुलिस की किरकिरी हो रही है. मामले में बवाल मचता देख दंतेवाड़ा के एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव (SP Dr. Abhishek Pallav) ने सफाई दी है.

दंतेवाड़ा (Dantewada) के कटेकल्याण के डब्बा इलाके में नक्सलियों (Naxalite) के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ (Encounter) हुई थी. बीते 8 अक्टूबर को हुई इस मुठभेड़ में 8 लाख रुपये के इनामी नक्सली देवा को डीआरजी के जवानों ने मार गिराया था. इसी मुठभेड़ में गोली लगने से सहायक आरक्षक कैलाश नेताम शहीद हो गए थे. मुठभेड़ के बाद सुरक्षा बल के जवानों ने शहीद नेताम के शव को नक्सली देवा के शव के साथ ही पन्नी में लपेट लाया. इसके बाद से शहीद के सम्मान को लेकर पुलिस पर सवाल उठाए जा रहे हैं.

Dantewada, naxalite
एक ही वाहन में पन्नी में लपेट कर शहीद जवान और मारे गए नक्सली का शव लाया गया.


एसपी ने दी सफाई
मामले में दंतेवाड़ा के एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने सफाई दी है. एसपी पल्लव ने कहा कि जिस जगह पर मुठभेड़ हुई, वह दुर्गम इलाका है. वहां संसाधनों की कमी थी. अलग से वाहन की व्यवस्था करना मुश्किल था. नक्सली के मरने के बाद मृत आत्मा का सम्मान किया जाता है. ऐसे में जवानों ने नक्सली के शव के साथ ही शहीद जवान का शव भी ​ले आए .

मौत के कारणों पर भी उठे सवाल
बता दें कि शहीद कैलाश नेताम की मौत के कारणों को लेकर भी सवाल खड़े किए जा रहे हैं. शुरुआती दौर में पुलिस ने जवान की हार्ट अटैक से मौत होना बताया था, जबकि बाद में गोली लगने से मौत होना पाया गया. इस पर दंतेवाड़ा एसपी डॉ. पल्लव ने कहा कि साथी जवानों को कैलाश नेताम ने सीने में दर्द होना बताया और उसके बाद उनकी मौत हो गई. गोली नजर नहीं आ रही थी. इसलिए शुरुआती दौर में हार्ट अटैक से मौत होना बताया गया था.

ये भी पढ़ें: PM सम्मान निधि को लेकर किसानों को गुमराह कर रही है सरकार: धरमलाल कौशिक 

युवती से रेप के बाद आरोपी ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया वीडियो, गिरफ्तार 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज