• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • 26 जवानों की हत्या में शामिल 'नक्सली' ने पुलिस को बनाया भाई, कही ये बात...

26 जवानों की हत्या में शामिल 'नक्सली' ने पुलिस को बनाया भाई, कही ये बात...

रक्षा बंधन के दिन छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा में एक अनोखी तस्वीर सामने आई. Demo Pic

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा के झारावाही कांड में नक्सली (Naxalite) हमले में 26 जवान (soldiers) शहीद हो गए थे.

  • Share this:
रक्षा बंधन के दिन छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा (Dantewada) में एक अनोखी तस्वीर सामने आई. स्वतंत्रता दिवस और रक्षा बंधन (Raksha Bandhan) दोनों ही एक ही दिन मनाया गया. इसी दिन दंतेवाड़ा के पुलिस (Police) लाइन में पुलिस कप्तान को एक ऐसी महिला ने राखी बांधी, जिसपर सुरक्षा बल (security forces) के 26 जवानों (soldiers) की हत्या में शामिल होने का आरोप है. इस समर्पित महिला नक्सली (Naxalite) ने पुलिस वालों को न सिर्फ राखी बांधी बल्कि अपनी सुरक्षा का वचन भी लिया.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा के झारावाही कांड में नक्सली (Naxalite) हमले में 26 जवान (soldiers) शहीद हो गए थे. इस हमले में शामिल समर्पित नक्सली सुन्दरी ने पुलिस कप्तान अभिषेक पल्लव को बीते 15 अगस्त को राखी बांधी. एसपी पल्लव के साथ ही दूसरे पुलिस अफसरों को भी उसने राखी बांधी और उनसे वचन भी लिया. उसने पुलिस के जवानों से अपनी सुरक्षा का वचन लिया. पुलिस अफसरों ने उसकी रक्षा का भरोसा दिलाया.

समर्पित नक्सली सुंदरी ने पुलिस कप्तान को राखी बांधी.


..तो चलाउंगी दस गोलियां
झारवाही कांड के मुख्य आरोपियों में शामिल नक्सली सुन्दरी ने अपनी रक्षा के वचन के साथ ही पुलिस जवानों की रक्षा का वचन भी दिया. पुलिस जवानों को राखी बंधने के बाद सुन्दरी ने कहा कि मेरे जवान भाइयों पर नक्सलियों ने एक भी गोली चलाई तो मैं 10 गोली चलाऊंगी, लेकिन भाइयो को कुछ नहीं होने दूंगी. बता दें कि कई सरेंडर नक्सली कह चुके हैं कि नक्सली कायराना हरकत कर जवानों को नुकसान पहुंचाते हैं. नक्सल संगठन में युवाओं को भटकाकर लाया जाता है. वहां महिलाओं और युवाओं का शोषण किया जाता है.

यहां पहली बार फहरा तिरंगा
स्वतंत्रता दिवस पर छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल प्रभावित इलाके से भी एक अच्छी खबर निकलकर आई. खूंखार नक्सली हिड़मा के गढ़ में सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन ने आज देश का तिरंगा झंडा शान से लहराया. यहां पहुंचने के लिए सुरक्षा बल के इन जवानों को अपनी जान की बाजी भी लगानी पड़ी. नक्सलियों ने उन्हें रोकने की साजिश कर रखी थी, लेकिन जवानों के जज्बों के आगे वो नाकाम हो गई. नक्सलियों के खूंखार लीडर हिड़मा के गढ़ सुकमा के कशालपाढ़ में सुरक्षा बल के जवान पहुंचे. आजादी के दिन सीआरपीएफ की 206 कोबरा बटालियन ने पहली बार भारत का राष्ट्रीय ध्वज लहराया.

ये भी पढ़ें: खूंखार नक्सली हिड़मा के गढ़ में CRPF ने लहराया तिरंगा, यहां लोगों ने पहली बार देखा देश का झंडा! 

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ सरकार का OBC को आरक्षण का बड़ा तोहफा, एक नए जिले का भी ऐलान 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज