लाइव टीवी

दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने की आधा दर्जन ग्रामीणों की पिटाई, पुलिस ने की दवाई

Abdul Hameed Siddique | News18 Chhattisgarh
Updated: November 19, 2019, 2:56 PM IST

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) में नक्सलियों (Naxalites) द्वारा ग्रामीणों की पिटाई करने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) में नक्सलियों (Naxalites) द्वारा ग्रामीणों की पिटाई करने का मामला सामने आया है. पुलिस (Police) का दावा है कि नक्सलियों की पिटाई में आधा दर्जन ग्रामीण घायल हुए हैं, लेकिन नक्सलियों की दहशत की वजह से ग्रामीण इलाज कराने अस्पताल नहीं जा रहे थे. इसके बाद पुलिस (Police) के जवानों ने ही उनका प्राथमिक इलाज किया और उन्हें दवाई दी. पुलिस का दावा है कि नक्सलियों ने बुजुर्ग महिलाओं की भी पिटाई की है.

दंतेवाड़ा (Dantewada) के पोटाली (Potali) गांव में सुरक्षा बल के जवानों का नया कैम्प खुल रहा है. इस कैम्प का ग्रामीण विरोध कर रहे हैं. दंतेवाड़ा पुलिस (Dantewada Police) का दावा है कि नक्सलियों ने पास के ही निलवाया गांव के कुछ ग्रामीणों की इसलिए पिटाई कर दी, क्योंकि उन्हें शक है कि ये पुलिस कैम्प (Police Camp) स्थापित करने में मदद कर रहे हैं. इसी आरोप में नक्सलियों ने ग्रामीणों से मारपीट की है. इलाज कराने में असक्षम ग्रामीणों के घर पुलिस के जवान गए और उनका इलाज किया.

नक्सलियों की साजिश
पुलिस का दावा है कि नक्सली अपनी पहुंच के इलाजों में पुलिस कैम्प बनाने नहीं देना चाहते. इसलिए ही साजिश रचकर ग्रामीणों से कैम्प का विरोध करवा रहे हैं. नक्सली इस तरह की कायराना हरकत कर ग्रामीणों को ही अपना निशाना बना रहे हैं. विरोध में महिलाओं को आगे किया जा रहा है. अपनी दहशत फैलाकर नक्सली इस तरह की करतूत कर रहे हैं. बता दें कि कैम्प के विरोध में हाल ही में ग्रामीण उग्र हो गए थे. इसके बाद सुरक्षा बल के जवानों ने लाठी भांजी और आवाज वाले कारतूस से हवाई फायरिंग की थी.

ये भी पढ़ें: अस्पताल की लिफ्ट में नवजात संग 2 घंटे तक फंसा रहा पूरा परिवार, पुलिस ने ऐसे बचाई जान 

डेढ़ महीने से मुसीबत में फंसे इन बंदरों को है 'राम' का इंतजार, प्रशासन कर रहा ये काम 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दंतेवाड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 2:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...