• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • दंतेवाड़ा में CRPF पर हमले के लिए नक्सलियों ने रखा था बांस बम, ऐसे बचे जवान

दंतेवाड़ा में CRPF पर हमले के लिए नक्सलियों ने रखा था बांस बम, ऐसे बचे जवान

दंतेवाड़ा (Dantewada) में सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए लगाए गए बम (Bomb) को जवानों ने बरामद करने के बाद मौके पर निष्क्रिय कर दिया.

  • Share this:
दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में घोर नक्सल (Naxal) प्रभावित जिले दंतेवाड़ा (Dantewada) में सुरक्षा बल के जवानों की सतर्कता के कारण ए​क बार फिर नक्सली (Naxalite) साजिश नाकाम हुई है. जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सली तरह तरह की टेक्निक अपना रहे हैं. नक्सली कभी प्रेशर बम, टिफिन बम लगा रहे हैं तो कभी मानव का पुतला बनाकर उसमें बम लगा रहे हैं. हर बार नक्सली की मंशा को जवान अपनी सतर्कता से विफल कर रहे हैं. गुरुवार को सुरक्षा बल के जवानों को नक्सलियों का बांस पाइप बम (Bamboo pipe bomb) बरामद हुआ, जिसमें बांस के सहारे पाइप बम ब्लास्ट (Bomb Blast) करने की नक्सलियों की मंशा को जवानों ने फिर विफल कर दिया.

दंतेवाड़ा (Dantewada) में सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए लगाए गए बम (Bomb) को जवानों ने बरामद करने के बाद मौके पर निष्क्रिय कर दिया. अरनपुर-जगरगुंडा मार्ग में सीआरपीएफ 231 बटालियन जवान सर्चिंग पर निकले थे. तभी रास्‍ते में संदेह होने पर बारीकी से छानबीन की तो सड़क के नीचे ढाई किलोग्राम विस्‍फोटक से तैयार बम मिला, जिसे जवानों ने मौके पर ही डिफ्यूज कर दिया. इस बम से जवानों को बड़ा नुकसान हो सकता था. नक्सलियों ने बांस के सहारे पाइप बम बनाया था और बड़ी ही चालाकी से जंगलो की आड़ में बांस के पाइप बम को लगा रखा था.

सर्चिंग दौरान दिखा बांस बम
सीआरपीएफ के जवानों के मुताबिक नक्सलीयों के नापाक इरादे थे कि जवान जब सर्चिंग पर निकले तो जंगलों में बांस के पाइप बम को देखकर समझ न सके कि ऐसा भी बम हो सकता है, लेकिन जवानों ने सर्चिंग के दरमियान बम को खोज निकाला और उसे मौके पर ही निष्क्रिय कर दिया. कोंडासावली कैंप से निकली टीम जब अरनपुर- जगरगुंडा मार्ग पर थी, तभी उन्‍हें बम की जानकारी हुई और उसे निकालकर निष्क्रिय कर दिया गया. बता दें कि इस मार्ग में सैकड़ों बम जवानों ने सड़क निर्माण और सर्चिंग के दौरान बरामद किया है. कुछ हादसे भी हुए हैं.

ये भी पढ़ें: सुपेबेड़ा: एक बार फिर चर्चा में क्यों है किडनी की बीमारी से जूझ रहा छत्तीसगढ़ का ये गांव? 

स्वास्थ्य विभाग ने उजागर की HIV पीड़ितों की पहचान, गांव में फैली दहशत 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज