• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, घर से निकालकर रेत दिया गला

मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, घर से निकालकर रेत दिया गला

पुलिस मामले की जांच की बात कर रही है. (Demo Pic)

पुलिस मामले की जांच की बात कर रही है. (Demo Pic)

ग्रामीण की हत्या की पुष्टि दंतेवाड़ा एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव ने की है.

  • Share this:
दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में हो रहे पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के बीच नक्सलियों (Naxalite) ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है. दहशत फैलाने के मकसद से नक्सलियों ने दंतेवाड़ा जिले में एक ग्रामीण की निर्मम तरीके से हत्या (Murder) कर दी है. नक्सलियों ने ग्रामीण पर पुलिस की मुखबिरी (Police Informer) करने का आरोप लगाया है. हत्या करने के बाद ग्रामीण के शव को गांव के पास ही नक्सली फेंक कर फरार हो गए. सूत्रों की मानें तो मारा गया ग्रामीण डीआरजी (DRG) का जवान है. हालांकि पुलिस इस बात से साफ इंकार कर रही है. हत्या की पुष्टि एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव ने की है.

गला रेत कर की हत्या

मिली जानकारी के मुताबिक, ग्राम निलावाया के ग्रामीण मोहन भास्कर की नक्सलियों ने हत्या कर दी है. मारकर युवक के शव को अरबे चौक के पास फेंक दिया गया है. सूत्रों की मानें तो मोहन पहले नक्सली संगठन से जुड़ा था. कुछ दिन पहले उसने समर्पण कर दिया था. वहीं शुक्रवार रात कुछ नक्सली गांव पहुंचे और मोहन को उसके घर से बाहर निकाला और निर्मम तरीके से गला रेतकर हत्या कर दी. अरनपुर थाना क्षेत्र की ये पूरी घटना है.

जवान बताया जा रहा है मारा गया ग्रामीण

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, मारा गया ग्रामीण गुप्त सैनिक था. समर्पण करने के बाद डीआरजी में उसकी भर्ती हो गई थी. उसके काफी दिनों ने नक्सलियों द्वारा जान से मारने की धमकी मिल रही थी. फिर वो पोटाली कैंप में ही रहने लगा. कुछ दिनों से वो कैंप से भी गायब था. अब शनिवार सुबह अरबे चौक के पास उसका शव मिला है.

ये भी पढ़ें: 

VIDEO: नागरिकता कानून पर CM भूपेश बघेल के तीखे तेवर, दिया ये बड़ा बयान



अपहरण के दिन ही हो गई थी 9 साल के डोनेश की हत्या, कचरे में दफनाई थी लाश 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज