नक्सलियों की गोली से भाई हुआ था शहीद, सपना पूरा करने के लिए बहन ने पहनी 'खाकी'

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में एक बहन ने भाई की शहादत का बदला लेने के लिए पुलिस की नौकरी को चुना.

News18 Chhattisgarh
Updated: August 15, 2019, 9:50 AM IST
नक्सलियों की गोली से भाई हुआ था शहीद, सपना पूरा करने के लिए बहन ने पहनी 'खाकी'
शहीद भाई का सपना पूरा करने के लिए बहन ने पहनी पुलिस की वर्दी (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Chhattisgarh
Updated: August 15, 2019, 9:50 AM IST
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में एक बहन ने भाई की शहादत का बदला लेने के लिए पुलिस की नौकरी को चुना. दरअसल दंतेवाड़ा की रहने वाली कविता ने भाई के सपनों व उनकी शहादत का बदला लेने के लिए पुलिस की वर्दी पहनी. कविता का कहना है कि उनके भाई हमेशा से उन्हें पुलिस अफसर के रूप में देखना चाहते थे.

भाई की सपना पूरा करने के लिए पहनी वर्दी

नक्सली हमले में 31 अक्टूबर को जवान राकेश कौशल शहीद हो गए थे, जिसके बाद उनकी बहन कविता ने नक्सलियों से बदला लेने डॉक्टरी का सपना छोड़कर मई 2019 में आरक्षक की नौकरी ज्वाइन कर ली. कविता ने कहा कि भाई की शहादत के बाद जब अनुकम्पा में नौकरी की बात आई तो उन्होंने नौकरी को चुना, क्योंकि उनके भाई उन्हें पुलिस अफसर के रूप में देखना चाहते थे.

भाई की सपना पूरा करने के लिए पहनी वर्दी (सांकेतिक तस्वीर)
भाई की सपना पूरा करने के लिए पहनी वर्दी (सांकेतिक तस्वीर)


बंदूकों पर बांधी राखी

कविता के मुताबिक उन्होंने पुलिस प्रशासन से गुहार लगाई है कि उन्हें नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन टीम में शामिल किया जाए, ताकि वह अपनी भाई की शहादत का बदला ले सकें. इसी के चलते आज उन्होंने आज उन्होंने हथियार पर भी राखी बांधी.

यह भी पढ़ें- Independence Day Special: इस गांव में होती है अखबार की पूजा, ये है वजह
First published: August 15, 2019, 9:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...