छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा के हिरोली मुठभेड़ को ग्रामीणों ने बताया फर्जी, जवानों पर FIR की मांग

एफआईआर दर्ज नहीं होने पर मंगलवार को जिला मुख्यालय में प्रदर्शन करने की ग्रामीणों ने चेतावनी दी है.

Abdul Hameed Siddique | News18 Chhattisgarh
Updated: May 27, 2019, 5:40 PM IST
छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा के हिरोली मुठभेड़ को ग्रामीणों ने बताया फर्जी, जवानों पर FIR की मांग
Demo Pic.
Abdul Hameed Siddique
Abdul Hameed Siddique | News18 Chhattisgarh
Updated: May 27, 2019, 5:40 PM IST
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के ग्रामीणों ने सुरक्षा बल के जवानों पर एक गंभीर आरोप लगाया है. ग्रामीणों ने रविवार को हिरोली में हुए मुठभेड़ को फर्जी बताया है. ग्रामीणों का कहना है कि इस फर्जी मुठभेड़ जो युवक मारा गया है वो नक्सली नहीं बल्कि एक ग्रामीण है. ग्रामीणों का आऱोप है कि जवानों ने इस युवक की हत्या कर दी है और फिर इसे नक्सली करार कर दिया है. अब ग्रामीण इस पूरे मामले में कार्रवाई की मांग कर रहे है. वहीं एफआईआर नहीं होने पर मंगलवार को जिला मुख्यालय में प्रदर्शन करने की भी चेतावनी दी है.

ग्रामीणों ने शव लेने से भी किय इंकार

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार को किरंदुल थाना क्षेत्र के हिरोली इलाके में डीआरजी और जिला पुलिस बल के जवान और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ की बात कही गई थी. जवानों ने ये दावा किया था कि एक नक्सली का शव भी बरामद किया गया है. सोमवार को शव की शिनाख्त गुड्डी के रूप में हुई. मृत युवक के परिजनों ने दावा किया है कि गुड्डी नक्सली नहीं है बल्कि मजदूर है. परिजनों का कहना है कि पुलिस वक्त पुलिस मुठभेड़ की बात कह रही है उस वक्त गुड्डी 15 साथियों के साथ सड़क में मुरुम डालने के काम में लगा था. हिरोली में हुए मुठभेड़ को ग्रामीणों ने पूरी तरह से फर्जी बताया है.

गोली चलाने वाले जवानों पर कार्रवाई की मांग

हिरोली इलाके के ग्रामीणों का कहना है कि गांव के युवक गुड्डी को फर्जी मुठभेड़ में जवानों ने मारा है. ग्रामीण अब गोली चलाने वाले जवानों पर एफआईआर दर्ज कराने की मांग कर रहे है. ग्रामीणों का कहना है कि एफआईआर दर्ज होने के बाद ही युवक का शव लिया जाएगा. ग्रामीणों का आरोप है कि रविवार को कुछ लोग जबरदस्ती गुड्डी को बंधक बनाकर साथ ले गए जहां पहले से जवान मौजूद थे. फिर युवक को गोली मार दी गई. बताया जा रहा है कि इस फर्जी  मुठभेड़ को लेकर हिरोली ग्राम में हजारों लोगों की बड़ी बैठक भी हुई है. समाज सेवी सोनी सोरी ने भी ग्रामीणों को अपना समर्थन दिया है. वहीं ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर एफआईआर दर्ज नहीं होगी तो मंगलवार को जिला मुख्यालय में बड़ा प्रदर्शन किया जाएगा.

ये भी पढ़ें:

VIDEO: यूनिवर्सिल हेल्थ स्कीम लागू करने को लेकर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने दिया ये बड़ा बयान 
Loading...

VIDEO: अब झूठा रिपोर्ट दर्ज कराने पर कवर्धा पुलिस करेगी मामला दर्ज 

छत्तीसगढ़: कर्ज से परेशान किसान ने की खुदकुशी, अब परिवार को मिल रहा बैंक का नोटिस 

जीत के बाद अब छत्तीसगढ़ से कौन सा चेहरा होगा 'टीम मोदी' में शामिल?  

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स   
First published: May 27, 2019, 5:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...