• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • इस शातिर नक्सली ने की थी तीन इंजीनियर के अपहरण की प्लानिंग, जल्द गिरफ्तार करेगी पुलिस

इस शातिर नक्सली ने की थी तीन इंजीनियर के अपहरण की प्लानिंग, जल्द गिरफ्तार करेगी पुलिस

दंतेवाड़ा के कटेकल्याण एरिया के मुनगा इलाके में कुछ दिन  पहले एक मुठभेड़ हुआ था.  (File Photo)

दंतेवाड़ा के कटेकल्याण एरिया के मुनगा इलाके में कुछ दिन पहले एक मुठभेड़ हुआ था. (File Photo)

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अपहरण के मास्ट माइंड की पहचान कर ली गई है. बताया जा रहा है कि अपहरण के पीछे नक्सलियों के दरभा डिवीजन के टेक्नीकल टीम के इंचार्ज मधु का हाथ है.

  • Share this:
दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दंतेवाड़ा (Dantewada) जिले में हुए पीएमजीएसवाई (PMGSY) के सब इंजीनियरों समेत तीनों लोगों के अपहरण (Kidnapping) के मामले में एक चौंकाने वाला खुलासा किया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अपहरण के मास्ट माइंड की पहचान कर ली गई है. बताया जा रहा है कि अपहरण के पीछे नक्सलियों के दरभा डिवीजन केटेक्निकल टीम के इंचार्ज मधु का हाथ है. दीपक उर्फ मधु ने ही अपहरण की पूरी प्लानिंग की थी. कहा जा रहा है कि पुलिस अब इस नक्सली को पकड़ने की रणनीति तैयार कर रही है.

शातिर है नक्सली मधु

मिली जानकारी के मुताबिक दरभा डिवीजन में टेक्नीकल टीम के इंचार्ज मधु ने ही इंजीनियर को अगवना करने की पूरी प्लानिंग की थी. इसी ने तीनों को अगवा किया था और बंधक बनाकर रखा था. बताया जा रहा है कि मधु लैंड माइंस प्लांट में एक्सपर्ट है. पुलिस ने अब इस नक्सली की पहचान कर ली है. इसे गिरफ्तार करने की रणनीति पुलिस तैयार कर रही है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दरभा डिवीजन में टेक्नीकल टीम के इंचार्ज मधु ने ही इंजीनियर को अगवना करने की पूरी प्लानिंग की थी.


ऐसे किया था अगवा

बता दें कि कुआकोंडा ब्लॉक के अरनपुर थाना क्षेत्र में मुलेर की तरफ जाने वाली एक सड़क बनाई जानी है. जिसके लिए पीएमजीएसवाय के सब इंजीनियर अरुण मरावी और मुंशी सड़क की नपाई करने शुक्रवार को पहुंचे थे. उसी दौरान नक्सलियों ने उन्हें बंधक बना लिया था. कहा जा रहा था कि दोनों अपहरित इंजीनियर बचेली के रहने वाले हैं. अरनपुर क्षेत्र में नक्सलियों ने दोनों को बंधक बनाकर रखा था.


अगवा किए गए इंजीनियर में  PMGSY दंतेवाड़ा से अरुण मरावी और कुआकोंडा जनपद में कार्यरत मोहन बघेल बता जा रहे थे. कहा जा रहा है कि पंचायतों में डिजिटलाइजेशन का कार्य देखने दोनों निकले थे. फिर शनिवार शाम नक्सलियों ने इन्हें रिहा कर दिया था. बता दें कि कुछ दिन पहले दंतेवाड़ा के गुमियापाल इलाके से नक्सलियों ने आदिवासी युवाओं का अपहरण कर लिया था. तकरीबन आठ दिन बाद नक्सलियों ने सभी को रिहा किया था.

ये भी पढ़ें: 

सर्वे करने गए PMGSY के तीन इंजीनियर को नक्सलियों ने किया अगवा, फिर किया रिहा

श्रीलंका के बाजारों में जल्द नजर आएगी छत्तीसगढ़ की ये खूबसूरत साड़ी, फेन हो जाएंगी महिलाएं 

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज