• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • बम, गोली और बंदूक से नहीं, शॉर्ट फिल्मों से नक्सलियों के खात्मे की हो रही तैयारी

बम, गोली और बंदूक से नहीं, शॉर्ट फिल्मों से नक्सलियों के खात्मे की हो रही तैयारी

अब पुलिस शॉट फिल्मों से करेगी नक्सलियों का खात्मा

अब पुलिस शॉट फिल्मों से करेगी नक्सलियों का खात्मा

पुलिस अब नक्सलियों के खात्मे के लिए बम, बंदूक और बारूद का इस्तेमाल कम करेगी. घोर नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों की हकीकत सामने लाने के लिए पुलिस अलग-अलग 6 थीमों पर शॉर्ट फिल्म बना रही है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों को जड़ से खत्म करने के लिए पुलिस ने नई रणनीति बनाई है. इसके तहत अब नक्सलियों की खोखली विचारधाराओं को शॉर्ट फिल्म बनाकर लोगों दिखाया जाएगा. जिससे लोगों के सामने उनकी असलियत सामने आएगी और जनता उन्हें खुद नकार देगी. पुलिस अब नक्सलियों के खात्मे के लिए बम, बंदूक और बारूद का इस्तेमाल कम करेगी. बता दें कि घोर नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों की हकीकत सामने लाने के लिए पुलिस अलग-अलग 6 थीमों पर शॉर्ट फिल्म बना रही है. जिसे दंतेवाड़ा के आदिवासी इलाकों में युवा को दिखाया जाएगा. खास बात ये है कि इस फिल्म में पुलिस के जवान और ऐसे नक्सली काम कर रहे हैं जो आत्मसमर्पण कर चुके हैं. इन फिल्मों के लेकर और गीतकार भी पुलिस के अधिकारी और जवान ही हैं.

शॉर्ट फिल्म में 100 जवानों के साथ सरेंडर कर चुके नक्सली भी शामिल

दरअसल, युवाओं को नक्सलियों की हकीकत बताने के लिए दंतेवाड़ा पुलिस 6 शॉर्ट फिल्म बना रही है. इस फिल्म के लेखक और गीतकार दंतेवाड़ा के एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव और एएसपी सूरज सिंह परिहार हैं. फिल्म निर्माण में पुलिस के 100 जवानों के साथ सरेंडर किए हुए नक्सली भी शामिल हैं. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इन फिल्मों में नक्सलवाद की सच्ची घटनाओं का फिल्मांकन किया जा रहा है. करीब 10 मिनट की शॉर्ट-फिल्म की शूटिंग के लिए भिलाई, रायपुर से जवानों की एक टीम दंतेवाड़ा पहुंची है.

फिल्म में एसपी का रोल भी खुद दंतेवाड़ा के एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव निभा रहे हैं. शूटिंग की शुरुआत कारली के घने जंगल से हो रही है. इसके अलावा दंतेवाड़ा के अलग-अलग लोकेशंस में भी शूटिंग होगी.


शॉर्ट फिल्म में सिर्फ एक बाहरी कलाकार

नक्सलियों के सबसे बड़े नेता गणपति, हिड़मा और हुंगी मुख्य किरदार हैं. गणपति के रोल को निभाने के लिए भिलाई से एक कलाकार को बुलाया गया है, क्योंकि नक्सलियों के बड़े नेता दंतेवाड़ा के बाहर के होते हैं, ऐसे में इस किरदार के लिए बाहर के कलाकार को चुना गया. जानकारी के मुताबिक 6 शॉर्ट फिल्मों में से एक की कहानी सरेंडर की हुई महिला नक्सली और उसके बच्चे की परवरिश की है.

घोर नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों की हकीकत सामने लाने के लिए पुलिस अलग-अलग 6 थीमों पर शॉर्ट फिल्म बना रही है. जिसे दंतेवाड़ा के आदिवासी इलाकों में युवा को दिखाया जाएगा.


ये भी पढ़ें - 8 साल पहले हुआ था लापता, अब पता चला बन गया है माओवादी कमांडर

ये भी पढ़ें - यहां पुलिस और 'नक्सली' मिलकर कर रहे एक्टिंग, जानिए क्यों?

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज