अपना शहर चुनें

States

मानसिक रूप से बीमार को तबलीगी जमात का सदस्य बताकर दी गालियां, FIR दर्ज

तबलीगी जमात में हिस्सा लेने वाले लोगों को पुलिस ने ढूंढ निकाला
तबलीगी जमात में हिस्सा लेने वाले लोगों को पुलिस ने ढूंढ निकाला

छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में बीते 11 अप्रेल को लोगों की सूचना पर रूद्री पुलिस ने संदिग्ध हालत में मिले एक व्यक्ति को हिरासत में लिया था.

  • Share this:
धमतरी. छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में बीते 11 अप्रेल को लोगों की सूचना पर रूद्री पुलिस ने संदिग्ध हालत में मिले एक व्यक्ति को हिरासत में लिया था. अफवाह उड़ी की मोहम्मद रसूल नाम का वह शख्स तबलीगी जमात से जुड़ा है और कोरोना संक्रमित हो सकता है. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने व्यक्ति के संबंध में जानकारी जुटाई और डॉक्टर ने उसके स्वास्थ्य की जांच की. उस व्यक्ति को आईसोलेट भी कर दिया गया.

धमतरी में इस मामले की पूरी हकीकत तब सामने आई जब  जांच में पाया गया कि वो शख्स न तो तबलीगी जमात से जुड़ा है और न ही उसकी तबीयत खराब है. हां वो मानसिक रूप से की उसकी हालत जरूर ठीक नहीं है. वो कहीं भी घूमता रहता है. इस बीच एक वीडियो सेशल मीडिया में वायरल हो गया, जिसमें दिख रहा है कि पुलिस मो. रसूल को एंबुलेंस में बैठा कर अस्पताल के लिये रवाना कर रही है. इस कार्रवाई के वीडियो में जो आडियो है उसमें इस मानसिक बीमार के बारे में अपशब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है और उसे जमाती कहा जा रहा है.

अंजुमन इस्लामिया कमेटी ने की शिकायत
धमतरी की अंजुमन कमेटी ने इस वीडियो को आधार बनाते हुए आपत्ति जताई. वीडियो में अपशब्दो का हवाला दिया और इसे वायरल करने की भी शिकायत पुलिस से की जिस पर रूद्री थाना पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ अपराध कायम किया है. दरअसल अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि वीडियो बनाने वाला कौन था. गाली उसी ने दी या पास खड़े किसी और ने और इस वीडियो को वायरल किसने किया. पुलिस इस मामले की जाच में जुटी हुई है. धमतरी की एडिशनल एसपी मनीषा ठाकुर रावटे ने कहा कि जांच के बाद जिसका भी नाम सामने आएगा उस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.
ये भी पढ़ें:


छत्तीसगढ़: कोरोना के संकट के बीच रायपुर में पीलिया का कहर, मिले 136 मरीज

COVID-19: छत्तीसगढ़ में हॉट स्पॉट बने कटघोरा से मिले 7 नए मरीज, अब राज्य में 15 एक्टिव केस

कोविड-19: बिहार के 'मिश्रा जी' छत्तीसगढ़ में कैसे हो गए तबलीगी जमात के सदस्य?  
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज