IG के इस आदेश पर नहीं हुई कार्रवाई, ड्यूटी में अब भी तैनात हैं वसूली के आरोपी

बीते 19 जून को धमतरी यातायात के प्रभारी सहित 7 पुलिस कर्मियों के खिलाफ आईजी ने कार्रवाई के निर्देश जारी किये थे.

Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: August 9, 2019, 4:51 PM IST
IG के इस आदेश पर नहीं हुई कार्रवाई, ड्यूटी में अब भी तैनात हैं वसूली के आरोपी
छत्तीसगढ़ के धमतरी की यातायात पुलिस पर अक्सर अवैध वसूली के आरोप लगते रहे हैं.
Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: August 9, 2019, 4:51 PM IST
छत्तीसगढ़ के धमतरी की यातायात पुलिस पर अक्सर अवैध वसूली के आरोप लगते रहे हैं. इसकी शिकायत पीएचक्यू तक हुई थी, जिसके नतीजे में बीते 19 जून को धमतरी यातायात के प्रभारी सहित 7 पुलिस कर्मियों के खिलाफ आईजी ने कार्रवाई के निर्देश जारी किये थे, लेकिन करीब डेढ़ माह बीतने के बाद भी आईजी के निर्देशानुसार कार्रवाई नहीं हो पाई है.

दरअसल आईजी आनंद छाबड़ा के आदेश में साफ लिखा था कि अवैध वसूली में सलिंप्त पाए गए यातायता प्रभारी उपनिरीक्षक भावेश शेंडे, सहायक उप निरीक्षक और हवलदार को तत्काल यातायता से हटाया जाए. साथ ही इसी आरोप में दो आरक्षक और दो नगर सैनिक को भी तत्काल प्रभाव से यातायात से हटाने के स्पष्ट आदेश थे, लेकिन आज तक सिर्फ भावेश शेंडे, एएसआई देवांगन और हवलदार ध्रुव सिन्हा के अलावा किसी पर कार्रवाई नहीं की गई. इस मामले में अब पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठने लगे हैं.

इनपर नहीं हुई कार्रवाई
मामले में संदिग्ध पाए गए दो आरक्षक और दो नगर सैनिकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. वे आज भी यातायात व्यवस्था में तैनात हैं. इस मामले में जब धमतरी एसपी बालाजी राव साफ साफ कुछ भी कहने से बचते रहे. उन्होंने इस मामले में कोई साफ साफ कुछ नहीं कहा. हालांकि शिकायतों पर जांच के बाद कार्रवाई की बात उन्होंने कही.

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में यहां रहते हैं महिषासुर के वंशज असुर, जानें क्या हैं हाल? 

ये भी पढ़ें: विश्व आदिवासी दिवस: जानिए- आदिवासी बाहुल्य छत्तीसगढ़ में कैसे हैं आदिवासियों के हालात? 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धमतरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2019, 4:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...