धमतरी: उद्घाटन से पहले जर्जर हुआ स्कूल भवन, बच्चों को बैठने तक की जगह नहीं

भवन की कमी से जूझ रहे यहां के स्कूली बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है. लेकिन इस ओर कोई भी अधिकारी सुध नहीं ले रहा है.

Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: July 4, 2019, 5:21 PM IST
धमतरी: उद्घाटन से पहले जर्जर हुआ स्कूल भवन, बच्चों को बैठने तक की जगह नहीं
ऐसे जर्जर स्कूल भवन में पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे.
Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: July 4, 2019, 5:21 PM IST
छत्तीसगढ़ में एक तरफ शिक्षा विभाग अपनी गुणवत्ता में सुधार को लेकर तरह-तरह के दावे कर रही है, तो वहीं स्कूलों की हालत इन दावों की हकीकत खुद बया कर रही है. ऐसा ही कुछ मसला धमतरी जिले से सामने आया है. बरोली गांव में लाखों रुपए की लागत से निर्मित स्कूल भवन उद्घाटन के पहले ही जर्जर हो गया है. हालत ये है 4 साल बीत जाने के बाद भी इस स्कूल भवन का लाभ बच्चों को नहीं मिल सका. निर्माण होने के बाद से भवन में ताला लटका हुआ है. स्थिति ये है कि भवन की कमी से जूझ रहे यहां के स्कूली बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है. लेकिन इस ओर कोई भी अधिकारी सुध नहीं ले रहा है.

शिक्षा विभाग की लापरवाही आई सामने

शासकीय राशि का किस तरह से दुरूपयोग किया गया इसकी बानगी धमतरी जिले के बरोली में देखने को मिल रही है. यहां बच्चों की पढ़ने की व्यवस्था को देखते हुए नए स्कूल भवन की स्वीकृति दी गई थी. लेकिन शिक्षा विभाग की लापरवाही के चलते इस भवन का कोई उपयोग नहीं हो रहा है और भवन जर्जर हो गया है. करीब 4 साल पहले इस भवन का निर्माण लाखों रुपए खर्च करके बनवाया गया था, जिससे यहां पढ़ने वाले बच्चों को कोई दिक्कत न हो सके लेकिन इसके बावजूद बच्चों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. पुराना भवन पहले से ही जर्जर हो गया है. अब तो नया भवन भी जर्जर होने के कगार पर है.

ग्रामीणों ने लगाया ये आरोप

ग्रामीणों का कहना है कि प्राथमिक शाला भवन का निर्माण 2014- 15 में हुआ है. लेकिन वो भी जर्जर स्थिति में है. नए भवन में जगह-जगह छत से पानी टपकता है. इस वजह से बच्चों को बैठाने लायक जगह नहीं है. वर्तमान में बच्चे कवेलू वाले स्कूल भवन में बैठने को मजबूर है. ग्रामीणों का कहना है कि कई बार इसकी शिकायत पंचायत से लेकर अधिकारियों को की गई लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया गया. वहीं इस पूरे मामले में कलेक्टर रजत बंसल का कहना है कि बरोली गांव के स्कूल भवन का जल्द उद्घाटन कर दिया जाएगा. इसके लिए विभाग कार्य कर रही है.

ये भी पढ़ें:
शुभम नामदेव हत्याकांड: दो संदेहियों से हो रही पूछताछ, पुलिस जल्द कर सकती है खुलासा 
Loading...

बस्तर में होने वाले उपचुनाव को अग्नि परीक्षा मानते हैं PCC चीफ मोहन मरकाम 
First published: July 4, 2019, 5:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...