Assembly Banner 2021

एयर स्ट्राइक पर छत्तीसगढ़ में सियासत तेज, मंत्री सिंहदेव के बयान पर मचा बवाल

TS Singhdev.

TS Singhdev.

छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव धमतरी में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा है कि मारे गए आतंकियों की संख्या को लेकर जब सही जानकारी नहीं है तो भ्रम फैलाना ठीक नहीं है.

  • Share this:
पीओके के बालाकोट में बीते 26 फरवरी को भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक और उसमें कई आतंकियों के ठिकानों को नष्ट किए जाने के मामले में राजनीति तेज होती जा रही है. छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव ने एयर स्ट्राइक में मारे गए चरमपंथियों की संख्या को लेकर केंद्र सरकार, प्रधानमंत्री और भाजपा अध्यक्ष पर सवाल उठाएं हैं. इसके बाद प्रदेश की राजनीति गर्म हो गई है. भाजपा नेताओं ने मंत्री सिंहदेव के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि आंतकियों के अड्डों को भेदना सेना का काम था और कितने मारे गए ये गिनने का काम पाकिस्तान का है.

जम्मू-कश्मीर में पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायु सेना द्वारा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में किए गए एयर स्ट्राइक में सेना ने चरमपंथियों के कई आतंक के अड्डों को जमीदोज कर दिया था. उसके बाद भाजपा के कई बड़े नेताओं ने एयर स्ट्राइक में तीन सौ से अधिक चरमपंथियों के मारे जाने की बात कही थी. जिसको लेकर छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव धमतरी में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा है कि मारे गए आतंकियों की संख्या को लेकर जब सही जानकारी नहीं है तो भ्रम फैलाना ठीक नहीं है.

दूसरी तरफ टीएस सिंहदेव के इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री भारत सिंह सिसोदिया ने कहा है कि सेना ने पहले से तय टारगेट को भेद कर अपना काम पूरा कर लिया है. अब कितने आतंकी मारे गए उनकी गिनती करने का काम पाकिस्तान का है. इधर पुलवामा हमले के बाद जिस तरह से देश मे हर दल के नेता अपने अपने तरीके से राजनीति कर रहें हैं उसे देखकर लगता है. लोकसभा चुनाव के लिए किसी दल के पास कोई और मुद्दा बचा ही नहीं है.
ये भी पढ़ें: रेप के मामलों में बिहार और हरियाणा से आगे है छत्तीसगढ़, राजधानी में घुसा तेंदुआ 
ये भी पढ़ें: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का युवाओं के नाम खुला पत्र- लिखी दिल की ये बात 


ये भी पढें: ऐसे ही चलता रहा तो कहानियों का हिस्सा बनकर रह जाएंगे कुम्हार!  
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज