अपशब्द बोलने वाली प्रिंसिपल के खिलाफ बच्चों ने खोला मोर्चा, स्कूल में कर दी तालाबंदी

इस मामले में फौरन कदम उठाते हुए प्राचार्या अनिता ध्रुव को ऑफिस अटैच कर दिया है. साथ ही निलंबन की अनुशंसा का प्रस्ताव शिक्षण संचालनालय को भेज दिया है.

Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: July 22, 2019, 4:32 PM IST
अपशब्द बोलने वाली प्रिंसिपल के खिलाफ बच्चों ने खोला मोर्चा, स्कूल में कर दी तालाबंदी
प्राचार्या के खराब आचरण के कारण पूरा स्कूल परेशान था. आखिर में बच्चों ने अपने ही प्राचार्य के खिलाफ बगावत कर दी
Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: July 22, 2019, 4:32 PM IST
छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले के कुरमातराई गांव के हाई स्कूल की प्राचार्या (Principal) के खिलाफ बच्चों और स्कूल के टीचर्स ने मोर्चा खोल दिया. नाराबाजी करते हुए बच्चों ने स्कूल में तालाबंदी भी कर दी. मामला बिगड़ता देख धमतरी जिला शिक्षा विभाग ने भी इस मामले में फौरन कदम उठाते हुए प्राचार्या अनिता ध्रुव को ऑफिस अटैच कर दिया है. साथ ही निलंबन की अनुशंसा का प्रस्ताव शिक्षण संचालनालय को भेज दिया है.

ये है पूरा मामला

दरअसल लंबे समय से कुरमातराई हाई स्कूल में प्राचार्या के पद पर जमी अनिता ध्रुव के खिलाफ कई शिकायतें मिल रही थी. स्कूल के बच्चे और स्कूल के स्टाफ द्वारा बार- बार ये शिकायत की जा रही थी कि अनिता ध्रुव अक्सर अपशब्दों का प्रयोग करती है. आरोप है कि प्राचार्या स्टाफ का सीआर खराब कर देने और झूठे मामले में फंसा देने की धमकी देती है.

प्राचार्या के खराब आचरण के कारण पूरा स्कूल परेशान था. आखिर में बच्चों ने अपने ही प्राचार्य के खिलाफ बगावत कर दी. सोमवार को स्कूल के गेट पर बच्चों ने ताला जड़ दिया और नारेबाजी करने लगे. प्राचार्या को फौरन हटाने की मांग भी बच्चों ने की.

हुई कार्रवाई

स्कूल में तालाबंदी की खबर मिलते ही विभाग हरकत में आया. पहले अनिता ध्रुव को स्कूल से हटा कर ऑफिस अटैच किया गया. साथ ही एक पत्र प्रदेश मुख्यालय को भेजा गया है. इस पूरे मामले में धमतरी बीईओ का कहना है कि अनिता ध्रुव के खिलाफ तमाम शिकायतों की जांच शुरू कर दी गई है. जांच रिपोर्ट भी शिक्षण संचालनालय महानदी भवन को भेजा जाएगा.

ये भी पढ़ें:
Loading...

छत्तीसगढ़: बारिश के लिए करना होगा अभी और इंतजार, मौसम विभाग ने जताई ये आशंका 

फोर्स को चकमा देने नक्सलियों का नया पैंतरा, अब पुतले के नीचे लगा रहे IED

 
First published: July 22, 2019, 4:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...